आज से बिखरेगी वैश्विक संस्कृति की छटाः आदिवासी नृत्य महोत्सव में पहुंचे 7 देशों के कलाकार

प्रसिद्ध आदिवासी नृत्य महोत्सव राजधानी रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में रखा गया है। कार्यक्रम में नाइजीरिया, फिलीस्तीन सहित 7 देशों के अलावा मध्य प्रदेश, झारखंड, जम्मू-कश्मीर, आंध्र प्रदेश, असम, उड़ीसा, तेलंगाना, गुजरात समेत 26 राज्यों तथा 5 केंद्र शासित प्रदेशों की टीम आई है।

रायपुर। छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में प्रतिवर्ष आयोजित होने वाले राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव (tribal dance festival) की शुरूआत आज से होगी। इस बार महोत्सव में 26 राज्यों (states) और 5 केंद्र शासित प्रदेशों (union territories) के अलावा 7 देशों के 12 सौ कलाकार (the artist) पहुंचे हैं। महोत्सव का उद्घाटन झारखंड (Jharkhand) के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Chief Minister Hemant Soren) करेंगे। कार्यक्रम की अध्यक्षता (presiding) मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) करेंगे।

देश के प्रसिद्ध आदिवासी नृत्य महोत्सव राजधानी रायपुर (Raipur) के साइंस कॉलेज मैदान में रखा गया है। कार्यक्रम में नाइजीरिया, फिलीस्तीन सहित 7 देशों के अलावा मध्य प्रदेश, झारखंड, जम्मू-कश्मीर, आंध्र प्रदेश, असम, उड़ीसा, तेलंगाना, गुजरात समेत 26 राज्यों तथा 5 केंद्र शासित प्रदेशों की टीम आई है। यही नहीं छत्तीसगढ़ के विभिन्न जिलों से आए 200 कलाकार भी अपनी कला का प्रदर्शन करेंगे।

कार्यक्रम का उद्घाटन अवसर पर महोत्सव में विदेशों के साथ छत्तीसगढ़ सहित देश के विभिन्न राज्यों के आदिवासी नर्तक दल विभिन्न वेशभूषा में आकर्षक मार्च पास्ट करेंगे। समारोह में नाइजीरिया, फिलीस्तीन, छत्तीसगढ़ के गौर सिंग नर्तक दल, त्रिपुरा के होजगिरी दल की प्रस्तुति आकर्षण का केंद्र होंगे।

आदिवासी नृत्य महोत्सव में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शामिल होंगे। निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सुबह 12 बजे आदिवासी नृत्य महोत्सव में शामिल होंगे। दोपहर 3 बजे तक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद वापस मुख्यमंत्री निवास पहुंचेंगे। इसके बाद शाम 7.45 बजे फिर से आयोजन स्थल पर रहेंगे।
(TNS)