छात्राओं से आपत्तिजनक व्यवहार करने वाले प्राचार्य को उच्च शिक्षा आयुक्त ने किया निलंबित

अंबिकापुर। शासकीय लरंगसाय स्नातकोत्तर महाविद्यालय रामानुजगंज के प्रभारी प्राचार्य डॉ. आरबी सोनवानी (सहायक प्राध्यापक रसायनशास्त्र) के खिलाफ छात्राओं के साथ आपत्तिजनक व्यवहार करता था। प्राचार्य के खिलाफ विद्यार्थी लगातार प्रदर्शन कर रहे थे। इसकी वजह से महाविद्यालय के अध्ययन-अध्यापन की व्यवस्था भी प्रभावित हो रही थी। हर स्तर पर शिकायत के बावजूद जांच के नाम पर किसी प्रकार की कोई कार्रवाई नहीं हो रही थी। मामले की शिकायत होने के बाद उच्च शिक्षा आयुक्त न निलंबित कर दिया है।

महाविद्यालय और विद्यार्थियों के हितों की अनदेखी के आरोप से घिरे प्रभारी के मातहत अधिकारी-कर्मचारी भी उनकी कार्यशैली से परेशान थे। शुक्रवार को विद्यार्थियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने अंबिकापुर में पंचायत व स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से मुलाकात कर अपनी पीड़ा बताई थी। छात्र-छात्राओं का कहना था कि प्रभारी प्राचार्य की कार्यशैली से उच्च शिक्षा केंद्र की गरिमा धूमिल हो रही है।

विद्यार्थियों की शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए केबिनेट मंत्री टीएस सिंहदेव ने उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल से चर्चा की थी। उच्च शिक्षा विभाग के सचिव से भी उन्होंने प्राचार्य के खिलाफ सामने आई शिकायतों की जांच को लेकर जानकारी मांगी थी। दिन में हुए इन गतिविधियों के बाद देर शाम उच्च शिक्षा विभाग के आयुक्त ने प्राचार्य को निलंबित करने का आदेश जारी कर दिया।

आदेश में कहा गया है कि प्रभारी प्राचार्य डा आरबी सोनवानी के विरुद्ध प्राप्त शिकायतों की जांच उपरांत जांच अधिकारी द्वारा प्रस्तुत जांच प्रतिवेदन में उल्लेखित निष्कर्ष एवं अभिमत के परीक्षण में महाविद्यालय में छात्राओं के साथ आपत्तिजनक व्यवहार करने, पदीय गरिमा एवं आचरण संहिता के विपरीत आचरण करने महाविद्यालय के संचालन में स्थापित नियमों का पालन न करते हुए स्वेच्छाचारिता बरतने, स्वयं के आरक्षित वर्ग के होने की स्थिति के आधार पर कार्यवाही का भय दिखाकर विद्यार्थियों एवं सहकर्मियों को प्रताड़ित करने की शिकायतें प्रमाणित पाई गई हैं।

डॉ. आरबी. सोनवानी का उक्त कृत्य सिविल सेवा आचरण नियम-1965 के नियम-3 का स्पष्ट उल्लंघन है। शासकीय कर्तव्य के प्रति उपर्युक्त लापरवाही के कारण छग सिविल सेवा अधिनियम के तहत डॉ. आरबी सोनवानी प्रभारी प्राचार्य, शासकीय लरंगसाय स्नातकोत्तर महाविद्यालय रामानुजगंज जिला बलरामपुर को तत्काल प्रभाव से सेवा से निलंबित किया जाता है।

निलंबन काल में उनका मुख्यालय क्षेत्रीय अपर संचालक कार्यालय, उच्च शिक्षा बिलासपुर निर्धारित किया गया है। डॉ आरबी सोनवानी के निलंबन उपरांत शासकीय लरंगसाय स्नातकोत्तर महाविद्यालय रामानुजगंज का प्रभार तात्कालिक आधार पर प्राचार्य शासकीय महाविद्यालय बलरामपुर को दिया गया है।