10वीं और 12वीं की प्राइवेट परीक्षा देने वाले छात्रों को राहत, फार्म जमा करने की तारीख बढ़ी

रायपुर (raipur)। परीक्षा फॉर्म (exam form) भरने से चूके प्राइवेट पढ़ाई कर रहे छात्रों को छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल ने एक और अवसर दिया है। दसवीं और बारहवीं की प्राइवेट परीक्षा के लिए छात्र 7 दिसंबर तक परीक्षा फॉर्म जमा कर सकते हैं। इसके पहले अंतिम तारीख 25 नवंबर निर्धारित थी। मंडल के इस निर्णय से बड़ी संख्या में बच्चों को राहत मिली है। उनका एक साल का समय बर्बाद होने से बचेगा।

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल (Chhattisgarh Board of Secondary Education) के सचिव वीके गोयल ने मामले में जानकारी दी कि छात्र हित को देखते हुए परीक्षा (examination) फार्म जमा करने की तारीख आगे बढ़ाने का फैसला लिया गया है। कोरोना काल की वजह से 10वीं -12वीं की प्राइवेट पढ़ाई कर रहे अनेक छात्र फॉर्म भरने से वंचित रह गए थे। परेशान छात्र कार्यालय पहुंचकर फ़ार्म के लिए निवेदन कर रहे थे, जिस पर तारीख को आगे बढ़ाने का फैसला लिया गया।

मंडल सचिव ने बताया कि स्वाध्यायी विद्यार्थी (private student) 10वीं और 12वीं के लिए अब 7 दिसंबर तक 1100 रुपए तय फीस के साथ फिर से परीक्षा फॉर्म ऑनलाइन भर सकते हैं। पहले परीक्षा फॉर्म भरने की अंतिम तारीख 25 नवंबर थी।

बच्चों का साल बर्बाद होने से बचेगा
बता दें कि बहुत से बच्चे किसी कारण से दसवीं और बारहवीं बोर्ड की कक्षा रेगुलर अटेंड नहीं कर पाते। इसलिए बच्चे बोर्ड की इस परीक्षा में स्वाध्यायी छात्र के रूप में सम्मिलित होना चाहते हैं। वहीं दूसरा कारण कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण भी बहुत से बच्चे फार्म नहीं भर पाए थे। फार्म जमा करने की तारीख बढ़ा देने से वंचित बच्चों को इसका लाभ मिलेगा। वहीं उनका एक साल का समय भी बर्बाद नहीं होगा।

(TNS)