केंद्रीय पूल में चावल की डिलीवरी का निर्णय, परिवहन के लिए किया जाएगा अधिक क्षमता की रेक का उपयोग

एफसीआई ने 7.50 लाख मीटरिक क्षमता के अतिरिक्त गोदाम के लिए स्थान का परीक्षण करने और किराए पर लिए जाने का प्रस्ताव दिया है। मुख्य सचिव ने खाद्य विभाग के नोडल अधिकारी को नियमित रूप से एफसीआई के अधिकारियों से सम्पर्क बनाए रखने और चावल के परिवहन व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

रायपुर। मुख्य सचिव अमिताभ जैन की अध्यक्षता में खरीफ विपणन वर्ष 2021-22 को लेकर बैठक हुई। बैठक में केन्द्रीय पुल में एफसीआई को 45.65 लाख मीट्रिक टन चावल भेजे जाने के संबंध में चर्चा हुई। इस दौरान अधिकारियों ने कई सुझाव दिए, जिन पर अमल किया जाएगा।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित बैठक में चावल के परिवहन के लिए अधिक क्षमता के नए रेक का उपयोग करने पर निर्णय लिया गया। अधिकारियों ने राज्य के बाहर चावल के परिवहन के पूर्व संग्रहण के लिए एफसीआई ने किराए पर गोदाम लेने का सुझाव दिया। जानकारी के मुताबिक रेल्वे के रायपुर-बिलासपुर-नागपुर डिविजन ने पूर्ण सहयोग करने का आश्वासन दिया है।

किराए पर गोदाम लिए जाएंगे
एफसीआई ने 7.50 लाख मीटरिक क्षमता के अतिरिक्त गोदाम के लिए स्थान का परीक्षण करने और किराए पर लिए जाने का प्रस्ताव दिया है। मुख्य सचिव ने खाद्य विभाग के नोडल अधिकारी को नियमित रूप से एफसीआई के अधिकारियों से सम्पर्क बनाए रखने और चावल के परिवहन व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

ये अधिकारी रहे मौजूद
बैठक में खाद्य विभाग के सचिव टोपेश्वर वर्मा, प्रबंध संचालक मार्कफेड किरण कौशल, विशेष सचिव खाद्य विभाग मनोज सोनी सहित डिविजनल रेल्वे मेनेजर रायपुर-बिलासपुर-नागपुर, महाप्रबंधक भारतीय खाद्य निगम रायपुर, क्षेत्रीय प्रबंधक केन्द्रीय भण्डार गृह निगम भोपाल उपस्थित थे।

(TNS)