दर्दनाक हादसा : मंदिर से दर्शन कर तीन साल के मासूम के साथ लौट रहे थे बड़े पापा, दोनों डम्पर की चपेट में आ गए

नाथलदाई मंदिर के सामने सारंगढ़ थाना क्षेत्र में बाईक सवार बड़े पिता सुदामा मांझी पिता तिजलाल (32 साल) और भतीजा करण मांझी पिता सुंदरलाल मांझी (3 साल) डम्पर की चपेट में आ गए। इससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई।

रायगढ़। चंद्रपुर–सारंगढ़ नेशनल हाईवे (National Highway) पर महानदी पुल के ठीक ऊपर सारंगढ़ थाना (Sarangarh Police Station) क्षेत्र में बाईक सवार दो लोगों को डंपर ने चपेट में ले लिया। मौके पर उनकी दर्दनाक मौत हो गई। दुर्घटना के बाद चालक डंपर छोड़कर भाग गया।

पुलिस से मिली जानकारी अनुसार नाथलदाई मंदिर के सामने सारंगढ़ थाना क्षेत्र में आने वाले महानदी पुल के ऊपर सड़क एक्सिडेंट (accident) हुआ है। इस दौरान बाईक सवार बड़े पिता सुदामा मांझी पिता तिजलाल (32 साल) और भतीजा करण मांझी पिता सुंदरलाल मांझी (3 साल) डम्पर की चपेट में आ गए। इससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई। हादसे के बाद चालक ने गाड़ी छोड़कर भाग गया।

चंद्रपुर थाना क्षेत्र के बालपुर के रहने वाले दोनों आज शाम नाथलदाई मंदिर दर्शन करने आए हुए थे। उसके बाद वे सारंगढ़ की ओर जा रहे थे, तभी किसी अज्ञात डम्पर ने बाईक को ठोकर मार मारा, ऐसी आशंका जताई गई है। हादसे की सूचना पर सारंगढ़ थाने के साथ ही चंद्रपुर थाने की टीम ने मौके पर पहुंचकर व्यवस्था बनाई। मृतकों के शव को पंचनामा के बाद पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया है। बताया गया कि इस मार्ग पर आए दिन दुर्घटनाएं होती रहती है। हैवी गाड़ियों की बेपरवाही से चलने वजह से लोगों की जान पर बनी रहती है।
(TNS)