कहीं बड़ी पार्टी की थी तैयारी: राजधानी के सूने मकान से 30 लाख की विदेशी शराब जब्त

जानकारी के मुताबिक पूरे छत्तीसगढ़ में पिछले कुछ महीने से शराब की बिक्री में अनुमानित करीब 17 करोड़ रुपये आ रही थी, जबकि त्योहारों के वक्त ये आंकड़ा 20-25 करोड़ तक पहुंच जाते हैं।

रायपुर (Chhattisgarh)। अवैध शराब के खिलाफ आबकारी विभाग (Excise Department) को बड़ी सफलता मिली है। राजधानी में वीवी विहार के गली नंबर 3 के बंद घर में विभाग ने छापेमारी (raid) की, जहां से महंगी शराब (Liquor) बरामद हुई है। जहां से भारी मात्रा में अंग्रेजी और विदेशी शराब (English and foreign wine) जब्त किया गया है।

आबकारी विभाग के मुताबिक मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) निर्मित (manufactured) करीबन 100 पेटी शराब जब्त की गई है। जब्त शराब की कीमत लगभग 30 लाख रुपए आंकी गई है। त्योहार से पहले जिला आबकारी विभाग की ये बड़ी कार्रवाई है।

जब्ती में छत्तीसगढ़ में बिकती नहीं ऐसा ब्रांड भी शामिल

कार्रवाई (Action) में मिली शराब को लेकर पुलिस को हैरानी है कि इसमें से कई ब्रांड ऐसे हैं जो छत्तीसगढ़ में बिकती नहीं है। विभाग के अनुसार आबकारी विभाग में यह ब्रांड रजिस्टर्ड ही नहीं है। इससे ऐसा लग रहा है राजधानी में किसी बड़ी पार्टी में खपाने की तैयारी थी।

वीवी विहार में की गई कार्रवाई

जिला आबकारी उपायुक्त अनिमेश नेताम के अनुसार रायपुर के वीवी विहार स्थित गली नंबर 3 से अंग्रेजी शराब का जखीरा बरामद किया गया है। विभाग के अधिकारियों को मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई थी की बंद मकान में अवैध अंग्रेजी शराब रखा गया है। जब्त शराब की कीमत 30 लाख रुपए आंकी गई है, जिसमें कई महंगे ब्रांड मिले हैं। अब शराब असली ब्रांड है या नहीं, इसकी फॉरेंसिक जांच कराई जाएगी।

विभाग को आशंका हुई
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पूरे छत्तीसगढ़ में पिछले कुछ महीने से शराब की बिक्री में अनुमानित करीब 17 करोड़ रुपये आ रही थी, जबकि त्योहारों के वक्त ये आंकड़ा 20-25 करोड़ तक पहुंच जाते हैं। यही कारण है कि विभाग को आशंका हुई कि अन्य राज्यों से शराब की बड़ी खेप प्रदेश के विभिन्न जिलों में खपाई जा रही है। शायद यही कारण है कि सरकार के राजस्व को नुकसान पहुंच रहा था, जिसके बाद अवैध शराब बेचने वालों को शॉर्ट लिस्ट कर कड़ी निगरानी रखी गई।

बरामद शराब में मिले ये ब्रांड्स

रॉयल सेल्यूट, ब्लैक लेबल, रेड लेबल, जैक डेनियल्स, चिवास रीगल, ग्लेंफिडिच, ग्रे-गोआ, हंड्रेड पाइपर्स, सिग्नेचर, मैंकलेन समेत कई विदेशी ब्रांड की शराब शामिल है। इस कार्रवाई में नीलम किरण, जीआर आणे, सुप्रिया तिवारी, पंकज कुजूर समेत कई अधिकारी शामिल रहे।
(TNS)