मंदिर में ले गया गोमांस से भरा बोरा, पूछने पर बोलै सत्तू है, अब पहुंचा सलाखों के पीछे

BIHAR. बिहार से धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाला एक मामला सामने आया है। दरभंगा के मंदिर परिसर में मजीद आलम नाम का एक युवक मांस ले कर पहुंच गया। वहां मौजूद लोगों ने आशंका जताई है कि यह गोमांस है। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया है।

मामला घनश्यामपुर थाना क्षेत्र में पाली गांव के हनुमान मंदिर है। जहां मंदिर के प्रांगण में लगे हैंडपंप में मजीद आलम नाम के एक युवक द्वारा मांस को भिगोया जा रहा था। मंदिर में मौजूद लोगो ने उसे ऐसा करते देख लिया। जिसके बाद लोगों ने उसे पकड़ कर इस की सूचना पुलिस को दी। बताया जा रहा है। मजीद अलीगढ थाना क्षेत्र के रूपसपुर गांव का निवासी है। लोगों ने जब उसे देखा तब वह एक बाइक पर सवार था। और उस बाइक पर एक बोरा मांस से लदा हुआ था। लोगों को जब उस पर शक हुआ कि वह किसी गलत इरादे से मंदिर कैंपस में आया है, तब उन्होंने उससे पूछताछ शुरू कर दी।

जानकारी के मुताबिक गांववालों ने जब पहले बोरे के विषय में मजीद से पूछा तब उसने बोरे के अंदर सत्तू होने की बात कही थी। पर लोगों का गुस्सा इतने में शांत नहीं हुआ था। उन्होंने बोरे का मुँह खोलकर जब देखा तो सबकी आँखें खुली की खुली रह गई। पुरे बोरे में केवल मांस भरा था। यह देख गांव वालों का गुस्सा बढ़ गया जब उन्होंने कड़ाई से पूछताछ की तब युवक ने बोरे में गोमांस होने की बात भी स्वीकार कर ली।

इसकी सूचना लोगों ने तुरंत पुलिस को दी, पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी युवक को हिरासत में ले लिया। और शिकायत के आधार पर उसे गिरफ्तार भी कर लिया। जांच के लिए मांस के टुकड़े का सैंपल भेज दिया। जांच के बाद ही पता चल पायेगा की बोरे में आखिर किस जानवर का मांस था।

आरोपी पर हो कार्रवाई
घटना के बाद मौके पर पहुंचे बीजेपी विधायक ने कहा कि आरोपी ने जानबूझकर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाया है। उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

घनश्यामपुर थाना प्रभारी ने बताया कि मामला संज्ञान में आते ही कार्रवाई करते हुए युवक को गिरफ्तार कर लिया है। मांस का सैंपल जांच के लिए भेज दिया गया है। मामले की जांच जारी है।