पुलिस परिवार के सदस्य प्रदर्शन करने पहुंचे राजधानी, पुलिस ने कई को किया गिरफ्तार

रायपुर। छत्तीसगढ़ में एक बार फिर पुलिस परिवार के सदस्य अपनी मांगों को लेकर सड़क पर उतर आए हैं। पुलिस विभाग में सबसे निचले स्तर के कर्मचारियों के परिवार वाले सोमवार छह दिसंबर को पुलिस मुख्यालय का घेराव करने प्रदेश के अलगअलग इलाकों से राजधानी पहुंचे। बताया जा रहा है कि लगभग तीन हजार पुलिसकर्मी के परिवार के सदस्य आंदोलन में शामिल होने रायपुर पहुंचे। प्रदर्शन के पहले ही राजधानी पुलिस अलर्ट हो गई। आंदोलन की अगुवाई करने वाले उज्जवल दीवान को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस मुख्यालय और मंत्रालय का घेराव करने जा रहे पुलिस परिवार के सदस्यों को रास्ते में ही रोक दिया गया। प्रदेश के अलगअलग हिस्सों से पहुंच रहे पुलिस परिवार के सदस्यों को अलगअलग रास्ते पर ही रोक दिया गया। तीन साल बाद पुलिस परिवार के इस आंदोलन को लेकर रायपुर के रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और जिले की सीमाओं में पुलिस मुस्तैद रही।

सड़क पर बैठ के पुलिस परिवार के सदस्य

आंदोलन को लेकर राजधानी पहुंचे पुलिस परिवार के सदस्यों को पुलिस ने जगहजगह रोक दिया। पुलिस द्वारा रोके जाने के बाद प्रदर्शनकारियों ने वहां सड़क पर बैठकर प्रर्दशन शुरू कर दिया। सभी अपनी मांगों को लेकर नारेबाजी कर रहे थे।


यह हैं मांग
तीन साल बाद एक बार फिर आंदोलन के लिए जुटे पुलिस परिवार के सदस्यों की मांग है कि निचले स्तर के पुलिसकर्मियों का शोषण पूरी तरह बंद हो। वहीं पुलिस अफसरों द्वारा कराए जाने वाले घरेलु कार्य बंद किए जाए। वेतन विसंगति को दूर कर अन्य शासकीय कर्मचारियों की तरह सुविधाएं दी जाए। वहीं साप्ताहिक अवकाश देने का समय निर्धारित किया जाए।