भाजपा में पुरंदेश्वरी को चुनाव कमान सौंपने पर सीएम बघेल ने कहा- स्थानीय नेतृत्व पर भरोसा नहीं

इस दौरान मीडिया के कवर्धा और टिकरापारा विवाद पर मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में कोई भी वर्ग सरकार से नाराज नहीं है। अगर कोई दुखी है तो भाजपा है। इनके पास धर्मांतरण और साम्प्रदायिकता, सिर्फ दो ही हथियार रह गए हैं,

 

रायपुर (Raipur)। मुख्यमंत्री (Chief Minister) भूपेश बघेल आज निजी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए बालाघाट रवाना हुए। इससे पहले मीडिया (Media) के एक सवाल पर सीएम बघेल ने कहा जिस तरह से डी. पुरंदेश्वरी ने निकाय चुनाव की कमान संभाली है, इससे साफ है कि भाजपा को स्थानीय नेतृत्व पर भरोसा नहीं है।

बालाघाट रवाना होने से पहले सीएम ने मीडिया (Media) से चर्चा करते हुए उन्होंने सीडीएस बिपिन रावत के निधन पर शोक जताया। कहा कि पूरे देश के लिए बड़ी क्षति है, जो घायल हैं, उनके जल्द स्वस्थ्य होने की कामना करता हूं।

बारदाने के मूल्य में वृद्दि से कमी जैसी स्थिति नहीं
छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में धान खरीदी में बारदाने को लेकर दो अधिकारी दिल्ली भेजे जाने पर कहा कि कोशिश है कि भारत सरकार हमें बारदाना उपलब्ध करवाए। हमारी सरकार ने जब से बारदाने की कीमत 18 से बढ़ाकर 25 रुपए कर दी है, तब से कमी जैसी स्थिति कहीं नहीं है। किसान और मिलर्स बारदाना उपलब्ध करा रहे हैं।

छत्तीसगढ़ में कोई भी वर्ग सरकार से नाराज नहीं
इस दौरान मीडिया (Media) के कवर्धा और टिकरापारा विवाद पर मुख्यमंत्री (Chief Minister) बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में कोई भी वर्ग सरकार से नाराज नहीं है। अगर कोई दुखी है तो भाजपा है। इनके पास धर्मांतरण और साम्प्रदायिकता, सिर्फ दो ही हथियार रह गए हैं, जिससे वे माहौल खराब करने का प्रयास कर रही है। छ्त्तीसगढ़ की जनता ये बर्दाश्त नहीं करेगी।

(TNS)