मालदीव टूर पैकेज के झांसे में आकर शख्स ने लुटाए तीन लाख रुपए, गाजियाबाद यूपी से पकड़ाए शातिर ठग

फोन कर लोगों को देते थे आकर्षक टूर पैकेज का लालच, ठगों ने बना रखी थी फर्जी वेबसाइट, अब चढ़े पुलिस के हत्थे।

पुलिस की गिरफ्त में शातिर ठग

तीरंदाज, जगदलपुर। यहां पुलिस ने दो शातिर ठगों को गिरफ्तार किया है। इन ठगों को बस्तर पुलिस गाजियाबाद उत्तर प्रदेश से पकड़कर लाई है। इनके खिलाफ यहां के एक शख्स से तीन लाख से ज्यादा राशि ठगे जाने का मामला दर्ज किया गया था। इन शातिर ठगों को गिरफ्तार करने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। पुलिस ने इन ठगों के पास से नगदी, मोबाइल, चेकबुक, एटीएम आदि जब्त किया है।

जगदलपुर कोतवाली पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार दिसंबर 2021 एवं जनवरी 2022 के बीच धरमपुरा निवासी नूतन दीवान ठगी का शिकार हुआ था। अपनी शिकायत में नूतन दीवार ने बताया कि उनके मोबाइल पर हैप्पी टू हॉलीडेज के नाम से कॉल आया था। कॉलर ने मालदीव टूर का आकर्षक पैकेज की जानकारी दी। इस पैकेज की जानकारी देने के साथ ही उन्हें इसी नाम से वेबसाइट होने की भी जानकारी दी।

वेबसाइट चेक करने पर इनका ऑफर सही लगा और नूतन दीवान इनके झांसे में आ गया। इसके बाद अलग अलग किश्तों में नूतन दिवान ने ठगों को 3 लाख 11 हजार रुपए ट्रांसफर कर दिए। रुपए लेने के बाद भी नूतन को किसी प्रकार का टूर नहीं मिला। इसके बाद उन्हें ठगी का अहसास हुआ और कोतवाली थाने पहुंचकर उन्होंने शिकायत दर्ज कराई। इनकी शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ धारा 420 कायम कर आरोपियों की तलाश शुरू की गई।

इसके बाद एसपी जितेन्द्र सिंह मीणा, एएसपी ओमप्रकाश शर्मा के मार्गदर्शन व सीएसपी हेमसागर सिदार, डीएसपी नोडल सायबर सेल गीतिका साहू के पर्यवेक्षण में टीआई एमन साहू के नेतृत्व में टीम गठित किया गया। इसके बाद शिकायत कर्ता द्वारा जिन खातों में राशि ट्रांसफर की गई उनकी जानकारी जुटाई गई। इससे आरोपियों के यूपी गाजियाबाद में होने की जानकारी मिली।

इसके बाद उप निरीक्षक पीयूष बघेल के नेतृत्व में एक टीम को उत्तरप्रदेश रवाना किया गया था। टीम ने गाजियाबाद पहुंचकर संदेही को पकड़ा। पूछताछ में उसने अपना संतोष कुमार बताया। कड़ी पूछताछ में उसने नूतन दीवान से आन लाईन ठगी करना स्वीकार किया। संतोष दीवान के बयान के आधार पर उसके साथी गौरव सारस्वत को भी गिरफ्तार किया गया। आरोपियों के पास से पुलिस ने एक लाख नगद, दो मोबाइल फोन, एक चेकबुक, आधार कार्ड व पेनकार्ड बरामद किया है।