छत्तीसगढ़ के दिग्गज कांग्रेसी के तृणमूल में जाने की चर्चा, बाबा का आ रहा नाम

इस मामले में बाबा से नहीं हो पाई बात, लेकिन एक पत्रकार से बातचीत में किया बदलाव से इनकार

रायपुर। मेघायल की राजनीति में बड़े सियासी उलटफेर के बाद अब छत्तीसगढ़ कांग्रेस को लेकर पिछले कुछ दिनों से चर्चा गर्म है। सोशल मीडिया पर चल रही खबरों के मुताबिक छत्तीसगढ़ के एक दिग्गज नेता तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने जा रहे हैं। कुछ सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर कयास लगाए जा रहे हैं कि पार्टी बदलने जा रहे दिग्गज कांग्रेसी कोई और नहीं, बल्कि टीएस सिंहदेव हैं। इसके पीछे तर्क दिया जा रहा है कि प्रदेश की सत्ता की कुर्सी के लिए बाबा प्रयास कर रहे हैं, लेकिन पार्टी हाईकमान से तवज्जो नहीं मिल रही है, यही कारण है कि वे बदलाव के मूड में हैं।

दरअसल ट्विटर पर यह संदेश वायरल हुआ कि छत्तीसगढ़ के एक कद्दावर नेता अपनी छवि और लक्ष्य हासिल करने के लिए प्रशांत किशोर के संपर्क में हैं। अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए वे तृणमूल कांग्र्रेस का दामन थाम सकते हैं। इस बात के सामने आने के बाद कयास लगाए जाने लगे कि कांग्रेस छोड़ने की तैयारी में आखिर कौन है। इसके बाद प्रदेश सरकार में स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव की चर्चा शुरू हो गई। तर्क दिया गया कि मुखिया की कुर्सी हासिल करने के लिए बाबा दिल्ली की चक्कर लगा रहे हैं, लेकिन हाईकमान के स्तर से अब कोई तवज्जो नहीं मिल रही है। यही कारण है कि वे पार्टी बदलने का कदम उठा सकते हैं।

चर्चाओं के दौर के बीच शनिवार को एक कार्यक्रम के दौरान टीएस सिंहदेव से मीडिया कर्मियों ने आखिर इस मसले पर सवाल दाग दिया। पूछा गया कि क्या आप तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो रहे हैं। इस पर उन्होंने ऐसी किसी भी बात से इनकार कर दिया। उल्टे आरोप जड़ा कि कुछ लोग उन्हें नुकसान पहुंचाने के लिए अफवाह फैला रहे हैं। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ और दिल्ली में मेरे कुछ विशेष शुभचिंतक हैं। ये लोग नुकसान पहुंचाने के लिए ट्वीट करते रहते हैं। तृणमूल कांग्रेस वाली बात भी उन्हीं में से एक है। जब हाईकमान सारी बातें पर विचार कर रहे हंै, तो बाहर जाने की क्या जरूरत है।

सिंहदेव से नहीं हो पाई बात
इस संबंध में बात करने के लिए जब टीएस सिंहदेव से बात करने की कोशिश की गई तो बताया गया कि वे व्यस्त हैं। जब फोन किया गया तो किसी दूसरे व्यक्ति ने फोन उठाया। कहा गया कि थोड़ी देर में बात कराते हैं। लेकिन इसके बाद कोई प्रतिक्रिया नहीं आई।