जगदलपुर निगम में चल रहे भ्रष्टाचार के विरोध में 300 किमी साइकल चलाकर धरना देने जाएंगे पार्षद धनसिंह

जगदलपुर। छत्तीसगढ़ के जगदलपुर नगर निगम के पार्षद धनसिंह नायक ने निगम में हो रहे भ्रष्टाचार का विरोध करने के लिए नायाब तरीका अपनाया है। उन्होंने विरोध प्रदर्शन का ऐसा तरीका चुका है, जो लोगों के लिए आकर्षण बन रहा है और उनका ध्यान अपनी ओर खींच रहा है। दरअसल, जवाहर नगर वार्ड के भाजपा पार्षद धनसिंह नायक साइकिल से जगदलपुर से रायपुर का 300 किमी का सफर करके राज्यपाल अनुसुइया उइके से मुलाकात करेंगे।

इसके साथ ही जगदलपुर नगर निगम में हो रहे भ्रष्टाचार के खिलाफ मुख्यमंत्री निवास के बाहर धरना भी देंगे। पिछले छह महीने में साइकिल से राजधानी रायपुर की यह उनकी दूसरी यात्रा है। धनसिंह नायक ने कहा कि जनहित के मुद्दे, वीड हार्वेस्टिंग खरीदी में भ्रष्टाचार की जांच, डस्टबिन खरीदी घोटाले की जांच और वार्ड के विकास की मांग को लेकर राज्यपाल को वह ज्ञापन देंगे।

वार्ड की समस्या को लेकर पिछले दो दिनों से जगदलपुर में ही वह धरना दे रहे थे, लेकिन समस्याओं का समाधान नहीं होने पर विरोध जताते हुए साइकिल से रायपुर जाने का फैसला किया है। उन्होंने नगर निगम की महापौर सफिरा साहू पर क्षेत्र की समस्याओं का समाधान करने में उदासीनता बरतने का आरोप लगाते हुए कहा कि जनता के साथ अन्याय हो रहा है।

नेता प्रतिपक्ष संजय पांडे ने कहा कि, सदन के अंदर बहुमत की दादागिरी चलती है। नगर निगम में जहां-जहां भाजपा के पार्षद हैं उन वार्डों के कार्य को या तो स्वीकृत नहीं कर रहे हैं या काम जो होना है उसे जबरन धीमी गति से किया जा रहा है। जिससे सभी परेशान हैं। भाजपा वार्डों में विकास मे सौतेला व्यवहार किया जा रहा है।

(TNS)