कलेक्टर्स कांफ्रेंस : मुख्यमंत्री बघेल ने कहा बच्चों की परेशानियां करें कम, जाति प्रमाण पत्र बनाने विशेष अभियान चलाएं

मुख्यमंत्री बघेल ने अधिकारियों को राजस्व प्रशासन को लेकर कहा कि हर स्थिति में राजस्व प्रकरणों का सिटिज़न चार्टर में निर्धारित समय सीमा में निराकरण होना ही चाहिए।

रायपुर। कलेक्टर्स कांफ्रेंस (Collectors Conference) में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) ने बच्चों की परेशानियों को समझा। कहा जाति प्रमाण पत्र के कार्यों को सुगम बनाएं। इस कार्य को पूर्ण करने के लिए विशेष अभियान चलाएं। इसके लिए कैम्प लगाने के निर्देश दिए। साथ ही इस कार्य को समय सीमा में पूर्ण करने के लिए राजस्व विभाग (Revenue Department) व ज़िला प्रशासन (district administration) से तत्काल पहल करने को कहा।

राजस्व अधिकारियों का मूल कार्य
मुख्यमंत्री बघेल ने अधिकारियों को राजस्व प्रशासन को लेकर कहा कि हर स्थिति में राजस्व प्रकरणों का सिटिज़न चार्टर में निर्धारित समय सीमा में निराकरण होना ही चाहिए। यह राजस्व अधिकारियों का मूल कार्य है। अविवादित नामांतरण, खाता विभाजन जैसे सरल कार्य तत्काल किए जाएं। सभी प्रकरणों का पंजीयन अनिवार्य रूप से हो। इसमें लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों की ज़िम्मेदारी तय करें।

आबादी भूमि के फ्री होल्ड के लिए विशेष ध्यान दें
सीएम ने कहा कि आबादी भूमि के फ्री होल्ड के लिए कलेक्टर विशेष ध्यान दें, यह शासन का महत्वपूर्ण निर्णय है। इसका क्रियान्वयन बेहतर ढंग से हो। वहीं राजस्व प्रशासन से संबंधित शासन स्तर पर लंबित विषयों की समीक्षा मुख्य सचिव स्तर पर की जाए। समय सीमा का निर्धारण प्रत्येक स्तर पर निर्धारित किया जाए।

राजस्व वृद्धि के लिए समय सीमा में कार्यवाही पूर्ण करें

बैठक के दौरान नए अतिक्रमण पर प्रभावी रोकथाम लगाने सभी राजस्व अधिकारी कार्ययोजना बनाएं। विधि अनुसार अतिक्रमण व्यवस्थापन की कार्रवाई में तेज़ी लाकर नागरिकों को मालिकाना हक़ दिलाने के साथ-साथ शासन के राजस्व में वृद्धि के लिए गंभीरता से कार्य करने की आवश्यकता है। वहीं राजस्व वृद्धि के लिए भू-संसाधनों के उपयोग के लिए कलेक्टर समय सीमा में कार्यवाही पूर्ण करें।
(TNS)