हैकर्स के टारगेट पर Android यूजर्स के बैंक अकाउंट, जानें कौन सी गलती बना देगी आपको कंगाल

TIRANDAJ DESK. Android फोन इस्तेमाल करने वाले के लिए बड़ी खबर है। आज के समय जितनी तेजी से Android फोन के यूजर्स बढ़ रहे हैं उतनी ही तेजी से साइबर क्राइम भी बढ़ता जा रहा है। इन सब को ध्यान में रखते हुए साइबर सिक्योरिटी एजेंसी Cert In ने एंड्रॉयड यूजर्स को ऐसे सेफ्टी टिप्स के बारे में बताया है। जो यूजर्स को हमेशा ध्यान में रखने चाहिए। चलिए जानते है वो इन 5 गलतियों जिनकी वजह से हैकर्स आपको कर सकते हैं कंगाल हैं।

हाल ही में सरकार की साइबर सिक्योरिटी एजेंसी Cert In ने एंड्रॉयड यूजर्स को SOVA एंड्रॉयड ट्रोजन को लेकर वॉर्निंग दी थी।आपको बता दें कि ये वायरस यूजर्स के यूजरनेम और पासवर्ड आदि चीजों को चुरा रहा है। इस साल जुलाई में यूएस, रूस और स्पेन जैसे देशों में SOVA अपने पैर पसार चूका है। कुछ समय के बाद इस लिस्ट में भारत का नाम भी जुड़ गया हैं।और यह वायरस यूजर्स को टारगेट कर रहा है। सरकार ने हाल ही में यूजर्स को कुछ सावधानियां बरतने के लिए सेफ्टी टिप्स बताए हैं। जिन्हें यूजर्स फॉलो करते हैं तो अपना नुकसान होने से खुद को बचा सकते हैं।

ऑफिशियल ऐप स्टोर से ही डाउनलोड करें ऐप्स
इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि कोई भी ऐप हमेशा ऑफिशियल ऐप स्टोर से ही डाउनलोड करें। इससे 90 प्रतिशत तक की खतरनाक ऐप्स के डाउनलोड का चांस कम हो जाता है। इंस्टॉल या फिर किसी भी तरह के APK फाइल्स को इंस्टॉल करने के लिए सेटिंग्स में दिए Untrusted Sources वाले ऑप्शन को ऐनेबल ना करें, ऐसे में आपका फोन हैक होने का खतरा बढ़ जाता है।

ऐप डाउनलोड से पहले इन चीजों पर रखें नजर
पहले ऐप से जुड़ी डीटेल्स आप जान ले जैसे कि ऐप को कितने लोगों ने डाउनलोड किया है, लोगों के ऐप को लेकर रिव्यू क्या हैं आदि चीजों को पहले ध्यान से पढ़ ले फिर ही ऐप को डाउनलोड करे।

क्लिक करने से पहले करें ये काम
इस बात का आपको खास ध्यान रखना होगा कि मैसेज, ईमेल या फिर गूगल पर किसी भी तरह का कोई Uniform Resource Locator (यूआरएल) मिले तो क्लिक करने की गलती बिलकुल ना करें। इस बात का विशेष ध्यान रखें की सिर्फ ऐसे ही यूआरएल पर क्लिक करें जिसमें स्पष्ट रूप से वेबसाइट डोमेन का संकेत मिल रहा हो। यूआरएल को लेकर थोड़ा भी संदेह होने पर आप गूगल पर जाकर सीधे उस कंपनी की साइट पर जाकर चेक करें कि उनके यूआरएल और आपको मिले यूआरएल का लिंक एक समान है या नहीं।

ट्रांजैक्शन हिस्ट्री पे रखें नजर
अगर आपका भी खाता बैंक में है और अगर आपको अपने अकाउंट में किसी भी तरह की कोई ऐसी ट्रांजैक्शन लगती है जो आपने नहीं किया हो, या फिर आपके खाते से पैसे निकलने का कोई भी मैसेज आता है जो अपने नहीं निकाले हो ऐसे होने पर आप तुरंत बैंक को पूरी डीटेल के साथ जानकारी दें।

ऐप परमिशन को लेकर इन बातों का रखें ध्यान
ऐप डाउनलोड करने के बाद केवल वहीं परमिशन दें जो ऐप को रन करने के लिए जरूरी हैं। अगर हमेशा Allow कर दें तो डेटा चोरी होने का खतरा रहता है