जशपुर घटनाः जो बातें पुनिया जी स्पष्ट कर चुके हैं उस पर बार-बार सवाल उठाना ठीक नहींः सीएम

मामला जशपुर में कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता सम्मलेन का है, जिसमें जशपुर में पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष पवन अग्रवाल भाषण दे रहे थे। जैसे ही उन्होंने अपने नेता टीएस सिंह देव के समर्थन में बात करनी शुरू की, मामला बिगड़ गया।

रायपुर(Raipur)। लखनऊ (Lucknow) रवाना होने से पहले सोमवार को मीडियाकर्मियों (media persons) से मुख्यमंत्री (chief minister) भूपेश बघेल ने बात की। इस दौरान सीएम बघेल ने जशपुर (Jaspur) में रविवार को कांग्रेस नेताओं के बीच हुए धक्का-मुक्की मामले (push case) में कहा कि ऐसी घटनाएं रोकी जा सकती थीं।

इस दौरान सीएम ने इस बात पर अप्रसन्नता ज़ाहिर की कि जो बातें पुनिया जी स्पष्ट कर चुके हैं उस पर बार-बार सवाल उठा कर माहौल ख़राब किया जाता है।

ये है मामला?

मामला जशपुर में कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता सम्मलेन का है, जिसमें जशपुर में पार्टी के पूर्व जिलाध्यक्ष पवन अग्रवाल भाषण दे रहे थे। सब कुछ ठीक चल रहा था, लेकिन जैसे ही उन्होंने अपने नेता टीएस सिंह देव के समर्थन में बात करनी शुरू की, मामला बिगड़ गया। कुछ लोग उनकी तरफ दौड़ पड़े और उन्हें धक्का मारे। भूपेश बघेल समर्थक नेताओं और कार्यकर्ताओं ने उनके साथ मारपीट कर उन्हें मंच से हटा दिया। इस दौरान दोनों पक्षों में जम कर मारपीट भी हुई।
(TNS)