क्रिकेट के प्रेमियों के लिए खुशखबरी, रोड सेफ्टी टूर्नामेंट के पहले 2 मैच देख पाएंगे फ्री

सेमीफाइनल और फाइनल के लिए लगेगी 250 की टिकट

RAIPUR. राजधानी रायपुर में 27 दिसंबर से लोगों को क्रिकेट का का फीवर चढ़ने वाला है। सचिन-सहवाग के चौके-छक्कों के साथ जोंटी रोड्स और ब्रायन लारा को देखने लाखों की संख्या में क्रिकेट के दीवाने पहुंचेंगे। इस बीच, पिछले साल की तरह इस बार भी रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज क्रिकेट टूर्नामेंट में ऑनलाइल टिकट 250 रुपए शुरू हो रही है। लेकिन, क्रिकेट प्रेमियों के लिए जो खास बात है कि रायपुर में होने वाले दो लीग मुकाबलों को मुफ्त में देख सकेंगे। सेमीफाइनल और फाइनल मैच के देखने के लिए टिकट आनलाइन बुक किया जा सकता है। बता दें कि 27 सितंबर को दो मैच खेले जाएंगे। वहीं दो सेमीफाइनल और फाइनल मैच शहीद वीर नारायण सिंह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम नवा रायपुर में खेले जाएंगे।

जानकारी के अनुसार रायपुर के विभिन्न क्षेत्रों से लोगों को जाने के लिए बस सर्विस भी मुफ्त रहेगी। बताया जा रहा है कि उस दिन के लिए शहर के विभिन्न क्षेत्रों से 10 बसें स्टेडियम के लिए चलाई जाएंगी। गौरतलब है कि 27 सितंबर को बांग्लादेश लीजेंड्स और श्रीलंका लीजेंड्स के बीच पहला लीग मैच दिन में साढ़े तीन बजे से और दूसरा मुकाबला शाम साढ़े सात बजे से आस्ट्रेलिया लीजेंड्स और इंग्लैंड लीजेंड्स के बीच खेला जाएगा। इस स्पर्धा के लिए जिला प्रशासन द्वारा सारी तैयारियां की जा रही हैं।

इस बार बबल जोन में नहीं रहेंगे खिलाड़ी
रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज क्रिकेट टूर्नामेंट के लिए 25 सितंबर से टीम आना शुरू हो जाएगी। और सभी देशों के खिलाड़ियों की रुकने की व्यवस्था नवा रायपुर स्थित मेफेयर होटल में की गई है। इस बार कोरोना प्रोटोकाल की अनिवार्यता न होने से खिलाड़ी बबल जोन में नहीं रहेंगे। जिससे वो आप को माल, अन्य पर्यटन स्थलों के साथ ही जंगल सफारी करते हुए भी नजर आ सकते है।

कलेक्टर और एस.एस.पी ने लिया तैयारियों का जायजा
चार सौ से ज्यादा यातायात के जवान एयरपोर्ट, होटल, स्टेडियम, पार्किंग स्थल में तैनात रहेंगे। 26 सितंबर को खिलाड़ी मैच के पहले अभ्यास के लिए जाएंगे। खिलाड़ियों को सुरक्षा में कुल तीन हजार पुलिस के अधिकारियों और जवानों की तैनात रहेगी। शुक्रवार को कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर भुरे और एस.एस.पी प्रशांत अग्रवाल ने नवा रायपुर के शहीद वीरनारायण सिंह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम पहुंचकर टूर्नामेंट के आयोजन की तैयारियों का जायजा लिया।

जमकर लगेंगे छक्के चौके
इस बार टूर्नामेंट में 60 से 65 यार्ड की बाउंड्री बनाई जा रही है। जो पिछली बार की अपेक्षा छोटी है। बाउंड्री छोटी होने की वजह से जमकर छक्के चौके लगेंगे।