CSIT में योग दिवस : स्टूडेंट्स के साथ, टीचर्स व स्टाफ मेंबर्स ने भी किया योग प्रदर्शन

CSIT में योग दिवस

दुर्ग। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर छत्रपति शिवाजी इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी में योग दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। स्वामी विवेकानन्द सभागृह में पूरे उत्साह एवं उमंग के साथ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। योग प्रशिक्षक एवं सर्टिफाइड काउन्सर राजीव नायर ने शिक्षकों, विद्यार्थियों व कॉलेज के स्टाफ मेम्बर्स को ‘‘योग फॉर ह्यूमैनिटी‘‘ थीम पर योगाभ्यास कराया।

इस योग अभ्यास कार्यक्रम की शुरूआत प्रार्थना से की गई। इसके बाद तत्पश्चात चालन क्रियाएं, विभिन्न आसन जैसे ताड़ासन, वृक्षासन, पादहसतासन, भद्रासन, वज्रासन, शंषकासन, मंडुकासन, वक्रासन, मकरासन, भुगंगासन, शलभासन, सेतुबंधआसन, सूर्य नमस्कार, कपालभाती, नाड़ी शोधन,  भ्रामरीप्रणायाम एवं मेडिटेषन का अभ्यास कराया गया। इन आसनों से होने वाले शारीरिक फायदे को विस्तृत रूप से समझाया।

इस दौरान गहरी सांस इन्हेल और एक्सेल के माध्यम से हमारे शरीर से टॉक्सिन और तनाव को कम करने की विधि प्रेक्टिकल रूप से कराया गया। फ्रोजन सोल्डर, कंधे के दर्द, ज्वाइंट पेन से निजात पाने के लिए बॉडी जाईन्ट रोटेशन के साथ स्पाईन केयर एक्सरसाईज का अभ्यास कराया गया। सीएसआईटी के चेयरमैन अजय प्रकाश वर्मा ने सभी को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की शुभकामनाएं दी।

उन्होंने कहा कि योग एवं ध्यान से मानसिक एवं शारीरिक बल का विकास के साथ स्मरण शक्ति भी बढ़ती है। योग हमारे मस्तिष्क को ही नहीं बल्कि हमारे सम्पूर्ण स्नायु तंत्र को स्वस्थ एवं ऊर्जावान रखता है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक विद्यार्थी को योग एवं ध्यान अपने दिनचर्या में शामिल करना चाहिए। यह हर्ष का विषय है कि आज पूरा विश्व योग को स्वीकार कर चुका है।

सीएसआईटी के रजिस्ट्रार राजेश वर्मा ने इस अवसर पर कहा कि योग हर तरह के अवसाद को दूर करने में पूर्ण कारगार है। प्रतिदिन हमें योग के लिए कुछ समय देना चाहिए जिससे हमारा शरीर पूरी तरह उर्जावान बना रहे। इस अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर सीएसआईटी के प्राचार्य डॉ. संतोश कुमार शर्मा, सीएसआईपी के प्राचार्य डॉ. अशोक थुलुरू, सीएसएम के प्राचार्य डॉ. चन्द्रशेखर शर्मा ने दी।