छत्तीसगढ़ में 4 नवंबर के बाद मौसम होगा साफ, अभी आ रही नमीयुक्त हवा, इससे कई जगह आज बारिश

रायपुर। छत्तीसगढ़ में 4 नवंबर के बाद मौसम साफ होगा और हवा की दिशा फिर बदलेगी। इससे रात के तापमान में गिरावट आने की संभावना है। मौसम विभाग (Meteorological Department) के अनुसार पूर्वी, दक्षिण-पूर्वी दिशा और बंगाल की खाड़ी से आ रही नमीयुक्त हवा के कारण सोमवार रात से नमी बढ़ने लगी है। इसका के असर से बस्तर संभाग में कहीं-कहीं पर हल्की से मध्यम बारिश (Rain) के आसार हैं। राज्य के दूसरे हिस्सों में कुछ जगहों पर हल्के-मध्यम बादल छाए रहने की संभावना है। रायपुर में भी आसमान पूरी तरह से साफ नहीं रहेगा।

लालपुर मौसम केंद्र ( Lalpur Meteorological Station) के अनुसार कोमोरन एरिया और लगे हुए उत्तरी श्रीलंका के ऊपर एक कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ है। यह अगले 48 घंटे में अरब सागर की ओर बढ़ रहा है जो आगे बढ़ते हुए उत्तर-उत्तर-पश्चिम की ओर पहुंचेगा। फिलहाल इस सिस्टम की वजह से तमिलनाडू, केरल, आंध्रप्रदेश और कर्नाटक में भारी से अतिभारी बारिश की स्थितियां बनी हुई हैं। इस सिस्टम तथा अन्य कुछ स्थानीय मौसमी तंत्रों की वजह से प्रदेश में इस समय पूर्व, दक्षिण-पूर्व की ओर से नमीयुक्त हवा आ रही है। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि बस्तर संभाग में समुद्री हवा की वजह से कहीं-कहीं पर हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। यहां दिन का तापमान कम होगा और रात के तापमान में आंशिक वृद्धि होने की संभावना है। बस्तर के अलावा मध्य छत्तीसगढ़ में रायपुर और आसपास भी मौसम बदला रहेगा।

कोरोमोरिन एरिया में बने सिस्टम का असर
मौसम विज्ञानियों का कहना है कि कोरोमोरिन एरिया में बने सिस्टम का असर अगले दो-तीन दिनों तक रहेगा। तब तक दक्षिण भारत में भारी से अतिभारी बारिश होगी, जबकि उसका असर छत्तीसगढ़ में आंशिक रूप से रहेगा।
(TNS)