10 से नीचे उतरा राजधानी का पारा, जानें प्रदेश के तापमान की स्थिति

रायपुर। प्रदेश में उत्तर की ओर से ठंडी और शुष्क हवाएं चल रही है। इसके चलते पूरा प्रदेश शीतलहर की चपेट में आ गया है। प्रदेश के तामपान में अच्छी गिरावट दर्ज किया गया। प्रदेश में रात ही नहीं दिन में भी ठंडी हवाएं चल रही है। राजधानी रायपुर का तापमान 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया है। वहीं अंबिकापुर का पारा पांच डिग्री से नीचे है। बिलासपुर का न्यूनतम तापमान 7 डिग्री सेल्सियस रहा। दुर्ग का न्यूनतम तापमान 5.4 डिग्री सेल्सिलयस पहुंच गया। ऐसा सालों बाद हो रहा है कि तापमान में इतनी गिरावट आई है।

मौसम वैज्ञानियों का कहना है कि आने वाले दिनों में भी अभी न्यूनतम तापमान में और गिरावट के संकेत बने हुए है। प्रदेश के उत्तर व मध्य छत्तीसगढ़ में तापमान काफी गिर चुका है, इसलिए इन इलाकों में ज्यादा गिरावट नहीं होगी। लेकिन बस्तर संभाग में तापमान में अभी और गिरावट आने की संभावना है।

मंगलवार सुबह ठंडी हवाओं के चलते मौसम शुष्क रहा। आउटर क्षेत्र में तो ठंड और भी ज्यादा बढ़ गई। मौसम वैज्ञानिका एचपी चंद्रा का कहन है कि उत्तर से आने वाली ठंडी हवाओं के चलते तापमान गिरा है। आने वाले दिनों में प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में कोहरा छाया रहेगा।

जानें प्रदेश का तापमान

प्रदेश के बिलासपुर में 7.0 डिग्री सेल्सियस जो सामान्य से 6.1 डिग्री सेल्सियस कम है, पेंड्रा रोड में 5.7 डिग्री सेल्सियस जो सामान्य से 5.4 डिग्री सेल्सियस कम है, दुर्ग में 5.4 डिग्री सेल्सियस सामान्य से 7.9 डिग्री सेल्सियस कम है तथा राजनांदगांव में 8.7 डिग्री सेल्सियस सामान्य से 4.9 डिग्री सेल्सियस कम है। इस तरह इन सभी स्टेशनों में शीतलहर की स्थिति बनी हुई है।

कोरिया में पारा 3.3 पर पहुंचा

कृषि विज्ञान केंद्र कोरिया में 3.3 डूमर बहार में 4.4, ए डब्ल्यू एस दुर्ग में 5.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है । सबसे कम न्यूनतम तापमान ANFU अम्बिकापुर में 1.0 डिग्री सेल्सियस तापमान रिपोर्ट किया है । इस तरह सरगुजा संभाग, बिलासपुर संभाग, रायपुर संभाग के कुछ पैकेट, दुर्ग संभाग के कुछ पैकेट में शीतलहर की स्थिति बना हुआ है। प्रदेश में उत्तर से ठंडी और शुष्क हवाओं का आगमन लगातार जारी है जिसके कारण प्रदेश में न्यूनतम तापमान में गिरावट का दौर जारी रहने की संभावना है।