इन्द्रप्रस्थ के फ्लैट्स आवंटियों को 91 हजार की सब्सिडी, पहले आओ पहले पाओ के आधार पर आवंटन

संचालक मंडल की बैठक में इन्द्रप्रस्थ फेज–2 रायपुरा में नवनिर्मित 1472 ईडब्लूएएस फ्लैट्स के आवंटियों को प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत केन्द्र शासन से प्राप्त सब्सिडी की राशि में से आवंटियों को 91 हजार रुपए की राशि दिए जाने के प्रस्ताव भी पारित किया गया।

रायपुर (Raipur)। इन्द्रप्रस्थ ईडब्ल्यूएस (Indraprastha EWS) के फ्लैट्स आवंटियों को 91 हजार की सब्सिडी (subsidy) दी जाएगी। पुराने फ्लैट्स को पहले आओ पहले पाओ के आधार पर आवंटन किया जाएगा। इसका निर्णय (decision) रायपुर विकास प्राधिकरण में छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) शासन (Governance) द्वारा नियुक्त दो उपाध्यक्षों और संचालक मंडल के चार नए सदस्यों की नियुक्ति के बाद गुरुवार को पहली बार संचालक मंडल  (Board of Directors) की बैठक (meeting) में लिया गया।

बैठक में कमल विहार योजना के अंतर्गत अवैध रोड- रास्ते की सूची में शामिल 31 भूमि स्वामियों को पुनर्गठित भूखंड प्राप्त करने 28 फरवरी 2021 तक समय दिए जाने को लेकर चर्चा हुई। हीरापुर, रायपुरा और बोरियाखुर्द योजना में रिक्त पुराने फ्लैट्स को प्रथम आया प्रथम पाया के आधार पर आवंटन करने, इन्द्रप्रस्थ फेज–2 रायपुरा 1472 ईडब्लूएस फ्लैट्स के आवंटियों को प्रधानमंत्री आवास योजना अंतर्गत केन्द्र शासन से प्राप्त सब्सिडी की राशि की पहली किस्त 91 हजार रुपए की राशि दिए जाने का निर्णय लिया गया।

आश्रितों को अनुकंपा नियुक्ति दिए जाने का प्रस्ताव पारित
बेठक में प्राधिकरण के चार कर्मचारियों के निधन के कारण उनके आश्रितों को अनुकंपा नियुक्ति दिए जाने का प्रस्ताव पारित किया गया। रायपुर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष सुभाष धुप्पड़ की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में नवनियुक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी ऋतुराज रघुवंशी सहित नए उपाध्यक्ष सूर्यमणि मिश्रा और शिव सिंह ठाकुर, नए अशासकीय संचालक सदस्य राजेन्द्र पप्पू बंजारे ममता रॉय, हिरेन्द्र देवांगन उपस्थित थे.

पुनर्गठित भूखंड देने का समय बढ़ाया
संचालक मंडल की बैठक में कमल विहार योजना के अंतर्गत अवैध रोड- रास्ते की सूची में शामिल 31 भूमि स्वामियों को पुनर्गठित भूखंड देने का समय बढ़ा कर 28 फरवरी 2021 तक किया गया है। इसके लिए अवार्ड पारित भूस्वामियों को पारित अवार्ड की राशि, सर्विस चार्ज एवं ब्याज देना होगा।

हीरापुर, रायपुरा फ्लैट्स का पुनः आवंटन
प्राधिकरण की डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी आवास योजना हीरापुर, रायपुरा और बोरियाखुर्द योजना के अतंर्गत पूर्व में निर्मित फ्लैट्स जिनकी किस्तों का भुगतान नहीं करने के कारण खाली किए 261 फ्लैट्स का पुनः आवंटन किया जाना है। फ्लैट वर्तमान मे जैसी स्थिति में है वैसी स्थिति में विक्रय किए जाएंगे। न्यून निम्न आय वर्ग के लिए निर्मित इन फ्लैट्स की कीमत 3.31 लाख से 3.61 लाख तक है।

प्रथम आया प्रथम पाया में राशि जमा करने तीन माह का समय
पहले ये लॉटरी के आधार पर आवंटित किए जाते थे, लेकिन अब इनका आवंटन प्रथम आया प्रथम पाया के आधार पर आवंटन किए जाने के प्रस्ताव को संचालक मंडल के सदस्यों ने अपनी स्वीकृति प्रदान की। आवंटन के समय इन फ्लैट्स की राशि जमा करने के लिए तीन माह का समय दिया जाएगा। बैठक में कमल विहार योजना में बाह्य विद्युतीकरण हेतु 33/11 किलोवाट के विद्युत उपकेन्द्र के सब स्टेशन निर्माण के लिए छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत वितरण कंपनी को 1200 वर्गमीटर की भूमि एक रुपए के टोकन राशि में दिए जाने के प्रस्ताव को संचालक मंडल ने स्वीकृति प्रदान की।

पात्र आवंटियों को मिलेगी सूडा की राशि
संचालक मंडल की बैठक में इन्द्रप्रस्थ फेज–2 रायपुरा में नवनिर्मित 1472 ईडब्लूएएस फ्लैट्स के आवंटियों को प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत केन्द्र शासन से प्राप्त सब्सिडी की राशि में से आवंटियों को 91 हजार रुपए की राशि दिए जाने के प्रस्ताव भी पारित किया गया। प्राधिकरण को केन्द्र शासन व्दारा सूडा के माध्यम से 13.44 करोड़ रुपए की राशि प्राप्त हुई है, जिसमें पात्र आवंटियों को ही यह राशि दी जाएगी। शेष राशि रुपए 59 हजार रुपए केन्द्र शासन से राशि प्राप्त होने पर दी जाएगी।

बैठक में ये रहे मौजूद
संचालक मंडल की आज की बैठक में उपस्थित शासकीय सदस्यों में वित्त विभाग के अवर सचिव सतीश पांडेय, आवास एवं पर्यावरण विभाग के उप सचिव सी. तिर्की, कलेक्टोरेट से अपर कलेक्टर बीसी साहू, नगर और ग्राम निवेश छत्तीसगढ़ के अपर संचालक संदीप बांगड़े, छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत वितरण कंपनी से अधीक्षण अभियंता मनोज वर्मा, वन विभाग से रमन बी. सोमावर, नगर पालिक निगम से कार्यपालन अभियंता राजेश राठौर और लोक निर्माण विभाग से सहायक अभियंता सीमा दीवान शामिल हुए।

(TNS)