‘पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने वाले विद्यार्थी नैतिकता का विशेष ध्यान रखें”

शासकीय पण्डित श्यामाचरण शुक्ल महाविद्यालय धरसींवा में चल रहे 11 दिवसीय मूल्यवर्धित पाठ्यक्रम का दसवां दिन

कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विवि रायपुर के भ्रमण को पहुंचे शासकीय पण्डित श्यामाचरण शुक्ल महाविद्यालय धरसींवा के विद्यार्थी।

धरसींवा। शासकीय पण्डित श्यामाचरण शुक्ल महाविद्यालय धरसींवा के हिंदी विभाग द्वारा आयोजित 11 दिवसीय मूल्यवर्धित पाठ्यक्रम के 10वें दिन विद्यार्थियों ने कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विवि (Kushabhau Thackeray Journalism and Mass Communication University) का भ्रमण किया। भ्रमण का शुभारंभ विवि के ओरिएंटेशन कार्यक्रम से हुआ। इसमें 15 नवंबर से शुरू किए गए इस कार्यक्रम के तहत अब तक संपन्न हुए व्याख्यान व अन्य आयोजनों की जानकारी दी गई। इस मौके पर विश्वविद्यालय के कुलसचिव ने पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने वाले छात्रों को नैतिकता का विशेष ध्यान रखने की नसीहत दी।

विश्वविद्यालय के इलेक्ट्रॉनिक एवं मीडिया के विभागाध्यक्ष डॉ. नरेंद्र त्रिपाठी ने इस पाठ्यक्रम की रूपरेखा से लेकर आज तक सम्पन्ना हुए व्याख्यान व भ्रमण कार्यक्रम के बारे में जानकारी दी। विवि के एसोसिएट प्रोफेसर शैलेन्द्र खण्डेलवाल ने पत्रकारिता के क्षेत्र में सम्प्रेषण कला व कौशल की महत्ता के बारे में बताया। इसके साथ ही व्यक्तित्व विकास के लिए इस पर विशेष ध्यान देने के लिए कहा।

पाठ्यक्रम के संयोजक डॉ. सीएल साहू ने बताया कि हिंदी विषय में एमए कर रहे विद्यार्थियों के लिए पत्रकारिता के क्षेत्र में भी रोजगार के अवसर पर हैं। यही कारण है कि हिंदी विभाग द्वारा यह आयोजन किया गया है। प्रतिभागियों को विवि के कुलसचिव डॉ. आनंद शंकर बहादुर ने पाठ्यक्रम की सफलता के लिए शुभकामनाएं दीं। उन्होंने पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने वाले विद्यार्थियों को नैतिकता का विशेष ध्यान रखने की सलाह दी।

भ्रमण कार्यक्रम के दौरान डॉ. नरेन्द्र त्रिपाठी के मार्गदर्शन में छात्र-छात्राओं ने विवि के कम्युनिटी रेडियो स्टेशन ‘रेडियो” संवाद 90.8 एफएम व टीवी स्टूडियो में जाकर तकनीकि जानकारी हासिल की। विद्यार्थियों को रेडियो स्टेशन में प्रोग्राम निर्माण की प्रक्रिया, रिकॉर्डिंग, प्रसारण इत्यादि की विस्तार से जानकारी दी गई। इस मौके पर विद्यार्थियों को रिकॉर्डिंग करने का अवसर भी दिया गया। कुछ छात्र-छात्राओं ने स्टूडियो में अपनी आवाज में गाने भी रिकॉर्ड किए।

विद्यार्थियों को विवि के टीवी स्टूडियो में कैमरा सेटअप, न्यूज़ रीडिंग व उनके निर्माण की प्रकिया के बारे में भी जानकारी दी गई। डॉ. त्रिपाठी ने समाचार पढ़कर डेमो भी दिया। समाचारों के प्रसारण से लेकर िफल्म निर्माण व साक्षात्कार इत्यादि की जानकारी इलेक्ट्रॉनिक एवं मीडिया विभाग के विद्यार्थियों के अलावा बॉबी राजपूत, ज्योति साहू व मनीष ने दी।

इन सबके अलावा विद्यार्थियों ने विवि के ‘ज्ञान के सागर” ग्रंथालय का भी भ्रमण किया। यहां ग्रंथपाल डॉ. राजेन्द्र मोहंती ने ग्रन्थालय के बारे जानकारी दी। यहां रखे हुए भारत मे छपने वाले प्रारंभिक अखबारों के छायाचित्र, पत्रकारिता से सम्बंधित किताबों के संघ व विभिन्ना पत्र-पत्रिकाओं को देखकर विद्यार्थी अभिभूत हो गए। भ्रमण कार्यक्रम में सहायक छात्राओं के संरक्षक के रूप में समजशात्र की प्रध्यापक डॉ. रश्मि कुंजर भी शामिल रहीं।
(TNS)