रमन सिंह का सरकार पर आरोप : बोले- छत्तीसगढ़ में प्रशासनिक काम ठप, कौन कितना देगा कलेक्टरों की लगती है बोली

सट्टा-जुआ कराने वाला बेस्ट एसपी कौन हो सकता है। रेत और कोयले में सबसे ज़्यादा तेल कौन निकाल सकता है, ऐसा कलेक्टर बिठाया जा रहा है।

रायपुर। छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के सभी कलेक्टर्स की बैठक (collectors meeting) जारी है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) की अध्यक्षता में सभी विभागों के कार्यों की समीक्षा जारी है। इधर कॉन्फ्रेंस को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने तंज कसा है। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में प्रशासन नाम की चीज़ नहीं रह गई है। सारे प्रशासनिक काम (administrative work) पूरे प्रदेश में ठप हो गए हैं।

रमन सिंह ने कहा कि ट्रांसफ़र पोस्टिंग में अधिकारियों की गुणवत्ता मापदंड नहीं होती, कितना करोड़ कौन दे सकता है, इस क्षमता को परखने के बाद पोस्टिंग की जा रही है। सट्टा-जुआ कराने वाला बेस्ट एसपी कौन हो सकता है। रेत और कोयले में सबसे ज़्यादा तेल कौन निकाल सकता है, ऐसा कलेक्टर बिठाया जा रहा है।

पूर्व सीम ने आगे कहा कलेक्टर शब्द जब अंग्रेजों ने लाया था, तब वह एजेंट था। उन्होंने कहा तब कलेक्ट करने वाले को कलेक्टर कहा जाता था। यहां देखा जा रहा है कि भूपेश सरकार ने उसे सच साबित कर दिया। इस सरकार के लिए भ्रष्टाचार का पैसा कलेक्ट करने वाला अधिकारी ही कलेक्टर है। जुआ-सट्टा खिलाने में योग्य एसपी को ज़िला दिया जाता है। ऐसी स्थिति पूरे देश में कोई राज्य में नहीं होगी, लेकिन छत्तीसगढ़ इस दुर्भाग्य को झेल रहा है।
(TNS)