खून-खराबे की थी तैयारीः चुनाव के लिए तैयार हो रहे थे अवैध हथियार, पुलिस ने फैक्ट्री का किया पर्दाफाश

पकड़े गए बदमाशों से पुलिस ने पूछताछ की। उन्होंने स्वीकारा कि वे अवैध कारोबार में लगे हुए थे। बताया कि विधानसभा चुनाव को प्रभावित करने के लिए असलहे तैयार कर रहे थे। आरोपी पिछले कई सालों से अवैध हथियार बनाने का काम कर रहे थे। आरोपी 25 से 30 हजार में एक पिस्टल बेचते थे।

 

मेरठ। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मेरठ (Meerut) में चुनाव के दौरान भारी खून-खराबे की तैयारी थी। इसके लिए एक अवैध फैक्ट्री (illegal factory) में पिस्टल (pistol), मैगजीन (magazine) तैयार किया जा रहा था। जहां इसे बनाने के लिए बड़ी-बड़ी मशीनें लगाई गई थी। पुलिस (police) ने इसका खुलासा किया है।

एसएसपी ASP ने बुधवार को प्रेस वार्ता कर इसका खुलासा किया है। जानकारी दी गई कि अवैध हथियार बनाने की फैक्ट्री का खुलासा हुआ है। मुखबीर (informer) की सूचना पर इस अवैध कारोबार (illegal business) का पर्दाफाश किया गया। पुलिस ने अवैध हथियार के साथ छह आरोपियों को पकड़ा (accused arrested) है।

फैक्ट्री से अवैध हथियारों के साथ छह आरोपी गिरफ्तार
बता दें कि उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव (Assembly elections) होने हैं। इसका सभी राजनीतिक पार्टियां तैयारी में लगे हुए हैं। चुनाव के दौरान बदमाश यूपी को खून-खराबा (blood shed) कर दहलाना (tremble) चाहते हैं। इसके लिए वे अवैध हथियार तैयार कर रहे थे। मुखबीर की सूचना पर मेरठ में एसओजी और लिसाड़ीगेट पुलिस ने अवैध हथियार बनाने की फैक्ट्री में दबिश दी। जहां से पुलिस ने अवैध हथियारों के साथ छह आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

ये चीजें बरामद की गई
कार्रवाई के बाद एसएसपी ने बुधवार को प्रेस वार्ता कर इसका खुलासा किया है। पुलिस ने बदमाशों के पास से सात पिस्टल, तीन अधबनी पिस्टल, 201 मैगजीन, 66 मैगजीन कैप समेत भारी मात्रा में हथियार बनाने के उपकरण बरामद (recovered) किए हैं।

सालों से कर रहे हैं हथियार बनाने का काम
इस दौरान पकड़े गए बदमाशों से पुलिस ने पूछताछ की। उन्होंने स्वीकारा कि वे अवैध कारोबार में लगे हुए थे। बताया कि विधानसभा चुनाव को प्रभावित करने के लिए असलहे तैयार कर रहे थे। आरोपी पिछले कई सालों से अवैध हथियार बनाने का काम कर रहे थे। आरोपी 25 से 30 हजार में एक पिस्टल बेचते थे।

छह पकड़ाए और चार फरार हो गए
एसएसपी प्रभाकर चौधरी व एसपी क्राइम अनित कुमार ने प्रेसवार्ता में मामले का खुलासा किया। इस दौरान एसएसपी ने बताया और भी आरोपी है, जो फरार हैं। फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है। पुलिस ने छह आरोपी इकबाल, आमिर, आस मोहम्मद, इरशाद, हसीन उर्फ भूरा और आमिर को गिरफ्तार किया है। अभी राशिद, शहजाद उर्फ बंटी, इसरार, शाहिद और जुल्फिकार फरार है। इनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस दबिश दे रही है। ये सभी लिसाड़ीगेट और ब्रहमपुरी के रहने वाले हैं।

(TNS)