निगम चुनाव: भिलाई के 70 वार्डों में 20 से अधिक महापौर के दावेदार…. पढ़े विशेष खबर

Bhilai nagar Nigam
Bhilai nagar Nigam

भिलाई। नगरीय निकाय चुनाव के अंतर्गत यदि सबसे हॉट निगम की बात करें तो वह है नगर निगम भिलाई। रिसाली निगम बनने के बाद नए सिरे से परिसीमन हुआ और वार्डों की संख्या 70 की गई। एक साल के लंबे गैप के बाद अब जाकर यहां चुनाव होने जा रहे हैं। अब तक भिलाई निगम की तस्वीर पूरी तरह साफ हो गई है। भाजपा व कांग्रेस से अपने अपने पत्ते खोल दिए हैं। ऐसे में हम बात करें महापौर के दावेदारों की तो 70 वार्डों में 20 से अधिक ऐसे चेहरे हैं जो महापाैर की रेस में हैं।

बता दें कि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद सरकार ने निकायों की चुनाव प्रणाली में महत्वपूर्ण बदलाव किए। इसमें महापौर व अध्यक्ष का चुनाव अप्रत्यक्ष प्रणाली यानि निर्वाचित पार्षदों के बहुमत के आधार पर किया जाना है। इसका सीधा असर यह हुआ कि जो कभी पार्षद चुनाव को छोटा समझ रहे थे अब उनके लिए बड़ा हो गया है। क्योंकि पार्षदों में से ही महापौर का चुनाव होना है। ऐसे में इस बार पार्षद बनने के लिए कई बडे़ चेहरे मैदान में हैं। इनमें वे भी हैं जो पहले पार्षद रह चुके हैं और कुछ नए चेहरें भी हैं जो पहली बार चुनाव लड़ने जा रहे हैं।

कांग्रेस से यह है महापौर के दावेदार
महापौर के दावेदारों की शुरुआत सत्ताधारी कांग्रेस पार्टी से करते हैं। इनमें  वार्ड क्रमांक 3 मॉडल टाउन से अरुण सिसोदिया, वार्ड 5 कोसानगर से संदीप निरंकारी, नगर वार्ड 7 से आदित्य कुमार सिंह, वार्ड क्रमांक 19 राजीव नगर कोहका से राजेंद्र सिंह अरोरा, वार्ड क्रमांक 27 शास्त्री नगर से जोहन सिन्हा, वार्ड क्रमांक 29 वृंदा नगर से डॉ दिवाकर भारती, वार्ड 59 से एकांश बंछोर, वार्ड क्रमांक 60 सेक्टर 5 पश्चिम से नीरज पाल, वार्ड क्रमांक 65 सेक्टर 10  से श्रीमती सुभद्रा सिंह, वार्ड क्रमांक 66 सेक्टर 7 से लक्ष्मीपति राजू, वार्ड क्रमांक 70 शहीद कौशल यादव नगर से सीजू एंथोनी प्रमुख हैं। इसके अलावा कुछ और चेहरे भी हैं जो महापौर की दौड़ में है। इनमें वार्ड 16 सुपेला से केशव चौबे व वार्ड 18 कांट्रेक्टर कॉलोनी से लालचंद वर्मा के नाम शामिल हैं। अरुण सिसोदिया, संदीप निरंकारी, आदित्य सिंह व एकांश बंछोर पहली बार पार्षद चुनाव में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।

भाजपा से यह हैं दावेदार 
महापौर बनने की इस दौड़ में भाजपा से भी ऐसे कई नाम हैं जिनके बीच संघर्ष हो सकता है। भारतीय जनता पार्टी से महापौर के दावेदारों में वार्ड 5 कोसानगर से जयप्रकाश यादव, वार्ड 8 कृष्णा नगर से संतोष श्रीरांगे, वार्ड 11 फरीदनगर से महेश वर्मा, वार्ड 26 रामनगर मुक्तिधाम से रिकेश सेन, वार्ड क्रमांक 38 सोनिया गांधी नगर से पियूष मिश्रा, वार्ड क्रमांक 44 लक्ष्मी नारायण नगर वार्ड से दया सिंह, वार्ड 45 बालाजी नगर से श्याम सुंदर राव, वार्ड क्रमांक 48 जोन 3 खुर्सीपार से जय शंकर चौधरी, वार्ड क्रमांक 57 सेक्टर-2 दक्षिण से रश्मि सिंह आदि नाम है। इनमें से दया सिंह पहली बार चुनाव लड़ रहे हैं।

निर्दलीयों की अलग लाइन
नगरीय निकाय चुनाव में भिलाई नगर निगम से महापौर बनने के लिए दोनों दलों के अलावा निर्दलीय भी अलग लाइन लेकर चल रहे हैं। पार्टी टिकट से वंचित ऐसे कई चेहरे हैं जो इस चुनाव में निर्दलीय के तौर पर चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें कई नाम तो ऐसे हैं जो वार्ड में अपने दम पर जीत दर्ज कर सकते हैं। महापौर प्रत्याशी के दावेदारों की बात करें तो तो वशिष्ठ नारायण मिश्रा एक बड़ा नाम है। वशिष्ठ नारायण मिश्रा लगातार 4 सालों से पार्षद का चुनाव जीत रहे हैं। यही नहीं पिछले चुनाव में उन्होंने निर्दलीय के तौर पर महापौर का चुनाव भी लड़ा था उनकी लोकप्रियता को देखते हुए यदि निर्दलियों की अलग लाइन बनती है तो यह महापौर के सबसे बड़े दावेदार हो सकते हैं।