सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे जवान, खुद को उड़ाने की लगातार हो रही घटनाएं

सूत्रों से पता चला है कि दिनभर जवान का व्यवहार सामान्य था। कुछ दिन बाद वह छुट्टी पर घर भी जाने वाला था। उनकी छुट्टी भी मंजूर हो गई थी। ऐसे में घटना का कारण समझ नहीं आ रहा है।

 

गरियाबंद। आम जनता की सुरक्षा में तैनात जवान खुद को ही सुरक्षित महसूस नहीं कर पा रहे हैं। स्वयं पर गोली चलाने की लगातार हो रही घटना से ऐसा माना जा रहा है। जवानों द्वारा आत्महत्या करने का क्रम लगातार जारी है।

घटनाओं को देखें, तो अमूमन माह में एक न एक जवान अपनी ही बंदूक से स्वंय की ईह लीला समाप्त कर रहे हैं। हाल ही में सीआईएसएफ के जवान ने अपनी सर्विस राइफल से कनपटी पर गोली दागकर आत्महत्या कर ली।

घटनास्थल का मंजर ह्रदय विदाकर
देखा गया कि घटनास्थल का मंजर ह्रदय विदाकर था। जवान की चलाई गोली से बुलेट उसकी आंख को बाहर निकालते हुए बाहर आई। जानकारी अनुसार मृतक जवान उत्तर प्रदेश सूबे के एटा जिले का रहने वाला उदयवीर सिंह था। पुलिस ने जवान के शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है। पुलिस के अनुसार दर्रीपारा स्थित सीआरपीएफ कैंप में एसआई उदयवीर सिंह पदस्थ थे।

दोपहर को कैंप में एक के बाद एक दो फायर की आवाज आई
घटना के संबंध में पुलिस के अनुसार बताया जा रहा है कि दोपहर करीब 3 बजे कैंप में एक के बाद एक दो फायर होने की आवाज सुनकर साथी जवान मौके पर दौड़कर पहुंचे। वहां उदयवीर जमीन पर खून से लथपथ पड़े थे। गोलियां उनके सिर और आंखों को चीरते हुए बाहर निकल गई थीं। इस पर जवानों ने अफसरों को सूचना दी।

नहीं मिला सुसाइडल नोट
घटना के बाद तत्काल उदयवीर सिंह को एंबुलेंस से लेकर जिला अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। मौके पर किसी तरह का कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। मौका मुआयना में भी कुछ भी नहीं मिला।

निजी कारण हो सकता है
थाना प्रभारी हर्षवर्धन बैस ने बताया कि आत्महत्या का कारण अभी पता नहीं चल सका है। शुरुआती पूछताछ में किसी तरह के विवाद की भी बात सामने नहीं आई है। टीआई के अनुसार आशंका है कि निजी कारण से वह परेशान रहा होगा।

छुट्टी भी हो गई थी मंजूर
सूत्रों से पता चला है कि दिनभर जवान का व्यवहार सामान्य था। कुछ दिन बाद वह छुट्टी पर घर भी जाने वाला था। उनकी छुट्टी भी मंजूर हो गई थी। ऐसे में घटना का कारण समझ नहीं आ रहा है। अचानक ऐसा क्या हुआ जिसके कारण उदयवीर सिंह ने ऐसा कदम उठाया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

(TNS)