अंतरराष्ट्रीय योग दिवस : पांच साल के बच्चों ने दिखाई योग की कलात्मक मुद्राएं, सैकड़ों बच्चों ने एक साथ किया योग

भिलाई। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर माइल स्टोन अकेडमी में स्कूली बच्चों के लिए सामूहिक योग सेशन चलाया गया। प्ले स्कूल से लेकर जूनियर व सीनियर विंग में यह आयोजन किया गया। इस दौरान चार से पांच साल के बच्चों ने भी योग की कलात्मक मुद्राओं का प्रदर्शन किया। कार्यक्रम के दौरान टीचर्स बच्चों का मार्ग दर्शन करती रहीं। बच्चें भी टीचर्स के साथ योग करते रहे।

बता दें मंगलवार को देशभर में योग दिवस मनाया गया। शहर के स्कूलों में इस अवसर पर विशेष आयोजन किया गया। स्कूल के सभी बच्चों ने योग सेशन में भाग लिया। इस दौरान बच्चों का उत्साह देखने लायक था। प्ले स्कूल व जूनियर विंग के छात्रों ने योग की आकर्षक मुद्राएं प्रस्तुत की। इस दौरान बच्चों ने सभी तरह के आसन किए।

कार्यक्रम की शुरुआत में सीनियर विंग की छात्राओं के द्वारा भाषण प्रस्तुति दी गई। जिसमें भव्या देवांगन, आरती जिंदल एवं श्रद्धा सुमन जेना ने अपनी प्रस्तुति दी। इस भाषण में छात्राओं ने योग के महत्व एवं उससे जुड़ी जानकारियां बच्चों को दीं। इस वर्ष हम योग दिवस की आठवीं वर्षगांठ मना रहे हैं। इस वर्ष योग दिवस का विषय मानवता के लिए योग सुनिश्चित किया गया है। लेकिन हमारी भारतीय संस्कृति का संबंध इस योग से 5000 वर्षों पुराना है।

छात्राओं ने बताया कि योग करने से व्यक्ति शारीरिक एवं मानसिक तौर पर स्वस्थ एवं सुदृढ़ हो जाता है। कई बीमारियों का सफल इलाज इस योग के द्वारा संभव है। इन जानकारियों के पश्चात छात्र छात्राओं के द्वारा प्रशिक्षित गुरु के सानिध्य में योगाभ्यास किया गया। योग की शुरुआत प्राणायाम के द्वारा की गई।

इस दौरान कपाल भारती भुजंगासन सूर्य नमस्कार आदि योगासनों का अभ्यास छात्र एवं छात्राओं के द्वारा किया गया। बांसुरी की मधुर धुन में सभी छात्र एवं छात्राओं ने बड़े ही उत्साह एवं संयम के साथ इन योगासनों का अभ्यास किया गया। योग कार्यक्रम के इस सफल आयोजन के लिए सभी छात्र छात्राओं के साथ पूरे माइलस्टोन परिवार की भूमिका सराहनीय रही।