प्रोत्साहनः भाव-भंगिमा के साथ हूबहू चित्र बनाने वाला नन्हा हर्ष का मुख्यमंत्री ने किया सम्मान

मुख्यमंत्री ने हर्ष से आगे की पढ़ाई के विषय में पूछा तो उसने बताया कि वह सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहता है। कक्षा ग्यारहवीं में विज्ञान विषय लेकर पढ़ना चाहता है। इसके लिए विद्यालय में लैब की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री ने शाउमा शाला, चांटीडीह में प्रयोगशाला और लाइब्रेरी प्रारम्भ करने के लिए आश्वस्त किया।

रायपुर (raipur)। सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने का सपना संजोए कक्षा दसवीं का छात्र हर्ष रजक ने कभी नहीं सोचा था कि इंद्रधनुषी रंगों (rainbow colors) के लिए उसकी कला (art) के लिए एक दिन उसे मुख्यमंत्री (chief minister) भूपेश बघेल सम्मानित (honored) करेंगे। उनसे सराहना मिलेगी।

मुख्यमंत्री बघेल ने आज शाम यहां निवास कार्यालय में नन्हे प्रतिभावान चित्रकार हर्ष रजक से मुलाक़ात की। मुख्यमंत्री बघेल ने शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला, चांटीडीह, बिलासपुर (bilaspur) में कक्षा दसवीं के छात्र हैं। चित्रकला में माहिर हर्ष रजक के भाव-भंगिमा के साथ हूबहू चित्र उकेरने की प्रतिभा के बारे में अवगत होकर मुलाक़ात के लिए सीएम ने अपने निवास पर बुलाया था, जहां हर्ष के हुनर की सराहना कर उसका हौसला बढ़ाया।

हर्ष की मांग पर स्कूल में बनेगी प्रयोगशाला
मुख्यमंत्री ने हर्ष से आगे की पढ़ाई के विषय में पूछा तो उसने बताया कि वह सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहता है। कक्षा ग्यारहवीं में विज्ञान विषय लेकर पढ़ना चाहता है। इसके लिए विद्यालय में लैब की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री ने शाउमा शाला, चांटीडीह में प्रयोगशाला और लाइब्रेरी प्रारम्भ करने के लिए आश्वस्त किया। हर्ष ने मुख्यमंत्री को एक आदिवासी बाला का चित्र भेंट किया।

भाव-भंगिमा के साथ बनाता है हूबहू चित्र

हर्ष ने मुख्यमंत्री को बताया कि कक्षा छठवीं-सातवी से ही उसका चित्रकला के प्रति रुझान था, इसके लिए उनके पिता, शिक्षकों और प्राचार्य द्वारा प्रोत्साहन दिया गया। वह फ्री हैंड स्केचिंग के ज़रिए किसी का भी पूरी भाव-भंगिमा के साथ हूबहू चित्र बना लेता है।

मुख्यमंत्री व कलेक्टर का बनाया चित्र
हर्ष ने बताया कि इस वर्ष जिला स्तरीय राज्योत्सव कार्यक्रम में उसने कलेक्टर डॉ सारांश मित्तर और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का स्केच बनाया। प्रोत्साहन के बतौर कलेक्टर ने 5 हजार रूपए की पेंटिंग खरीदी, उन्हें पुरस्कार दिया। हर्ष ने बताया कि उसके पिता श्री संतोष रजक होटल में और माता श्रीमती ईश्वरी रजक सिलाई कढ़ाई करती हैं। सहायक संचालक शिक्षा संदीप चोपड़े ने बताया हर्ष 14-15 नवम्बर को रायपुर में आयोजित कला महोत्सव में स्कूल शिक्षा विभाग की तरफ से राज्य स्तरीय प्रतिनिधित्व करेंगे। इस अवसर पर हर्ष के पिता संतोष रजक, जिला शिक्षा अधिकारी एसके प्रसाद, प्राचार्या श्रीमती अलका अग्रवाल और श्रीमती अर्चना जोशी सहित अन्य उपस्थित थे।
(TNS)