ऐसे में छत्तीसगढ़ में मंडराता खतराः ओमिक्रान’ वेरिएंट की दहशत के बीच विदेश से छत्तीसगढ़ लौटे 217 यात्री

राज्य नोडल अधिकारी डा. सुभाष मिश्रा ने बताया कि एट रिस्क देशों यानी जिन देशों को नए वैरिएंट के खतरे में शामिल किया गया है। वहां से आने वाले लोगों के लिए केंद्र की ओर से गाइडलाइन जारी की गई है। उसके मुताबिक पहले उनकी तलाश की जाएगी।

रायपुर (Raipur)। कोरोना (Corona) के नए वेरिएंट को लेकर जिन देशों को एट रिस्क घोषित किया है, वहां से यात्री छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) लौटे हैं। ऐसे में यहां भी ओमिक्रान वेरिएंट (Omicron variants) का खतरा (danger) मंडरा रहा है। ऐसे में सावधानी बरतते हुए केंद्र सरकार (central government in) ने विदेश से छत्तीसगढ़ लौटे 217 लोगों की सूची भेजी है।

विदेश से लौटने वालों की केंद्र की सूची (center list) में छत्तीसगढ़ के यात्रियों का नाम है। सूची मिलने के बाद से स्वास्थ्य विभाग अलर्ट हो गया है। यात्री जिस जिले के रहने वाले हैं, उसके मुताबिक वहां के कलेक्टरों (collectors) को उनके नाम और पते भेज दिए गए हैं। सभी को 14 दिनों तक क्वारंटाइन (quarantine) में रहना होगा।

यहां अब तक कोई भी केस सामने नहीं आया
आदेश है कि इस दौरान दो बार उनका टेस्ट किया जाएगा। दोनों बार निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद ही उन्हें घर से बाहर निकलने की अनुमति मिलेगी। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक नए वेरिएंट का छत्तीसगढ़ में अभी तक कोई भी केस सामने नहीं आया है।

तीन हवाई अड्डों पर हेल्प डेस्क स्थापित
ओमिक्रान’ वेरिएंट की दहशत ऐसी है कि प्रदेश के तीनों हवाई अड्डों रायपुर, बिलासपुर और जगदलपुर में हेल्प डेस्क स्थापित किया गया है। बाहर से आने वालों की जांच की जा रही है। कोरोना पॉजिटिव निकलने की स्थिति में उनका इलाज शुरू कर उनके संपर्क में आए लोगों की जांच की जाएगी। केंद्र से भेजी गई सूची में 1 दिसंबर, 27, 28 और 29 नवंबर को लौटने वालों के नाम हैं। इनमें कुछ यात्री दिल्ली तो कुछ मुंबई एयरपोर्ट से यहां आए हैं। कुछ यात्री बेंगलुरु, हैदराबाद, लखनऊ के इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर भारत आए और वहीं से छत्तीसगढ़ आए हैं। विदेश से लौटने वाले सबसे अधिक रायपुर, दुर्ग-भिलाई, बिलासपुर और रायगढ़ के हैं।

दर्जनभर देश से पहुंचे यात्रियों की सूची कलेक्टरों को
राज्य नोडल अधिकारी डा. सुभाष मिश्रा ने बताया कि विदेश यात्रा के दौरान पासपोर्ट में दर्ज स्थानीय पते के आधार पर संबंधित जिलों को सूची भेजी गई है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार केंद्र से करीब अलग-अलग लिस्ट भेजी गई है। एक लिस्ट और मिली है, जिसमें 51 लोगों के लौटने की जानकारी है। छत्तीसगढ़ आने वालों में अब कुल 217 लोग हो गए हैं। उन्होंने बताया कि केंद्र ने पूरे यूरोपीय देशों के साथ-साथ दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बांग्लादेश, बोत्सवाना, चीन, मॉरिशस, जिम्बाब्वे, सिंगापुर, यूके और इजरायल को एट रिस्क देशों की सूची में रखा है।

अभी तक कोई केस नहीं, सभी की हो गई पहचान
राज्य नोडल अधिकारी डा. सुभाष मिश्रा ने बताया कि एट रिस्क देशों यानी जिन देशों को नए वैरिएंट के खतरे में शामिल किया गया है। वहां से आने वाले लोगों के लिए केंद्र की ओर से गाइडलाइन जारी की गई है। उसके मुताबिक पहले उनकी तलाश की जाएगी। यात्रियों की रिपोर्ट निगेटिव होने पर सात दिन बाद दोबारा टेस्ट किया जाएगा। उसमें निगेटिव निकलने पर ही उन्हें संक्रमण से मुक्त माना जाएगा। वहीं ट्रैवल हिस्ट्री के बारे में इनसे घोषणा पत्र भी मांगे जाएंगे। विदेश से लौटकर आए लोगों की सूची संबंधित जिलों को भेजी गई है। सभी की पहचान हो गई है। अभी तक कोई पॉजिटिव केस नहीं मिले हैं।

(TNS)