नए डीजीपी के तेवर सख्त, नशे का कारोबार बंद कराने चलाएंगे इंटर स्टेट ऑपरेशन

रायपुर (Raipur)। छत्तीसगढ़ पुलिस (Chhattisgarh police) के नए कप्तान (new captain) से प्रदेश में नशे के कारोबारियों (drug dealers) पर लगाम लगने की उम्मीद दिख रही है। पदभार ग्रहण करते ही अपने मातहत अधिकारियों को ऐसे माफियाओं पर लगातार कार्रवाई (action) कर इस कारोबार को राज्य में पूर्णत बंद (completely closed) करने की बात कही गई है। इसके लिए वे कड़े निर्देश (strict instructions) दिए हैं।

बता दें कि छत्तीसगढ़ में गांजा तस्करी के साथ ही अन्य नशे की चीजें दूसरे राज्यों से धड़ल्ले से आ रही है। ऐसे मामले लगातार सामने आ रहे हैं। करोड़ों के इस कारोबार में नए-नए आडियास अपनाए जा रहे हैं। खासकर ओडिशा से लगे सीमावर्ती इलाकों से बड़े पैमाने पर गांजा तस्करी के मामले पकड़े गए हैं।

CM बघेल के सख्त निर्देश का दिखने लगा असर
राज्य में गांजा तस्करी को रोकने के लिए मुख्यमंत्री (Chief Minister) भूपेश बघेल ने सख्त निर्देश दिए हैं। सीएम के इस निर्देश का असर भी दिखने लगा है। छत्तीसगढ़ पुलिस के नए मुखिया (new chief) अशोक जुनेजा (Ashok Juneja) ने शुक्रवार को अपना पदभार ग्रहण (take over) कर लिया। नए डीजीपी ने प्रेसवार्ता (press conference) में गांजा तस्करी को रोकने को लेकर जानकारी साझा की।

ओडिशा पुलिस के साथ मिलकर करेंगे तस्करों पर वार

DGP अशोक जुनेजा ने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था को बेहतर बनाना, माओवाद प्रभावित क्षेत्र में विकास को गति देने पर फोकस होगा। शासन के विकास को जनता तक पहुंचाने का प्रयास उन क्षेत्रों में होगा। कप्तान जुनेजा ने कहा कि डीजीपी ओडिशा से बात हुई है। गांजा की तस्करी रोकने आगामी मंगलवार को उनसे विस्तृत बात होगी। उनसे मिलकर गांजा तस्करी को रोकने इंटर स्टेट आपरेशन की बात करेंगे। वहीं मिलकर रणनीति बनाएंगे।

आईजी ने दिए इन अवैध कारोबार पर लगाम लगाने के निर्देश

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के हिदायद के बाद पुलिस विभाग में बैठकों का दौर जारी है। रायपुर संभाग के आईजी डॉक्टर आनंद छाबड़ा ने सभी जिलों के एसपी की बैठक शुक्रवार को ली। बैठक में चिटफंड कंपनियों के फरार आरोपियों को पकड़ने, दिगर प्रांत से आने वाले धान पर रोक लगाने, बार्डर पर पुलिस की तैनाती, गांजा की तस्करी रोकने, जुआ सट्टा सहित अवैध कारोबार पर रोक लगाने के निर्देश आईजी ने संभाग के सभी पांच जिलों के एसपी को दिए।
(TNS)