धरसीवां महाविद्यालय में मनाया गया हिंदी सप्ताह, लेखन प्रतियोगिताओं का हुआ आयोजन

RAIPUR. पण्डित श्यामाचरण शुक्ल महाविद्यालय धरसीवां में 14 सितंबर को राष्ट्रीय हिंदी दिवस के मौके पर हिंदी सप्ताह के रूप में मनाया गया। यह कार्यक्रम हिंदी विभाग और साहित्यिक समिति के संयुक्त प्रायोजन में से हुआ। जिसमें 14 सितंबर को मौलिक नारा लेखन, 15 सितंबर को ‘स्वाभिमान की भाषा है हिंदी’ विषय पर निबन्ध लेखन, 16 सितंबर को हिंदी भाषा पर मौलिक कविता लेखन और 19 सितंबर को ‘ वर्तमान परिदृश्य में हिंदी भाषा’ विषय पर भाषण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इन प्रतियोगिताओं में महाविद्यालय के सभी संकायों के विद्यार्थियों ने बढ़चढ़ कर भाग लिया।

महाविद्यालय में 14 सितंबर को हुई नारा लेखन प्रतियोगिता में बीएससी के छात्र अभय तिवारी ने पहले, एम ए हिंदी के ओमप्रकाश ने दूसरे और बी कॉम तीसरे के छात्रा खिलेश्वरी देवांगन तृतीय स्थान पर रहे। वहीं 15 सितंबर हुई निबन्ध लेखन प्रतियोगिता में अनीसा बुसरा, प्रियंका साहू तथा छाया विश्वकर्मा क्रमशः पहले दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे।

हिंदी भाषा पर मौलिक कविता लेखन प्रतियोगिता का आयोजन जो 16 सितंबर को हुआ उसमे प्रथम एमए हिंदी की छात्रा मोनिका साहू, एमए हिंदी के ही पुष्प साहू दूसरे और एमएससी की छात्रा अनीसा बुसरा तीसरे स्थान पर रहीं। भाषण प्रतियोगिता में पहले स्थान पर प्रियंका साहू,दूसरे स्थान पर अलफिया बुसरा तथा तीसरे स्थान पर अनीसा बुसरा रहीं।

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि और महाविद्यालय के जनभागीदारी समिति के अध्यक्ष दुर्गेश वर्मा और प्राचार्य डॉ. शबनूर सिद्दीकी ने विजेताओं को प्रमाणपत्र और पुरस्कार देकर प्रोत्साहित किया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि वर्मा और प्राचार्य ने कहा कि हमें हिंदी भाषा का अधिक से उपयोग करना चाहिए।

कार्यक्रम के संयोजक और हिंदी विभाग के अध्यक्ष डॉ. सी.एल.साहू ने विद्यार्थियों को हिंदी भाषा का इतिहास के बारे में विस्तार से बताया। कार्यक्रम में विज्ञान संकाय के वरिष्ठ प्राध्यापक के के शर्मा व डॉ . निधि देवांगन, कल्पना पांडेय, डॉक्टर स्वाति शर्मा, प्रशांत रथ, अन्नपूर्णा बंजारे के साथ महाविद्यालय के विद्यार्थी उपस्थित थे।