कैंसर मरीजों के लिए राहत की खबर छत्तीसगढ़ के सभी जिला अस्पतालों में मिलेगी कीमोथैरेपी की सुविधा

टीएस सिंहदेव

रायपुर। छत्तीसगढ़ के कैंसर रोगियों के लिए राहत की खबर है। अब प्रदेश के सभी जिला अस्पतालों में मरीजों को कीमोथैरेपी की सुविधा का लाभ मिल सकेगा। स्वास्थ्य विभाग सभी जिलों में इस सुविधा के विस्तार की तैयारी में है। इसके लिए स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने निर्देश भी दिए हैं। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा जिल जिलों में यह सुविधा उपलब्ध नहीं है, वहां इसकी व्यवस्था करने के निर्देश दे दिए गए हैं। वर्तमान में प्रदेश में 17 जिला अस्पतालों में कीमोथेरेपी की सुविधा दी जा रही है। डे-केयर कीमोथेरेपी की सुविधा वाले इन 17 अस्पतालों में से आठ बस्तर और सरगुजा जैसे दूरस्थ अंचल में हैं।

बताते चलें कि कोरोना काल में लाकडाउन में भी स्थानीय स्तर पर मौजूद इस सुविधा ने कैंसर के मरीजों को बड़ी राहत दी थी। दरअसल, उस समय के सार्वजनिक परिवहन की सुविधाएं बंद होने की वजह से मरीज दूर-दराज के इलाकों में नहीं जा सकते थे। उस समय अलग-अलग जिलों में संचालित इस सुविधा से कैंसर के रोगियों को बड़ी राहत मिली थी।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की ‘दीर्घायु वार्ड’ योजना के अंतर्गत प्रदेश के 17 जिला अस्पतालों में 820 कैंसर मरीजों की कीमोथेरेपी की गई। इसमें जगदलपुर जिला अस्पताल में 341, जशपुर में 294, अंबिकापुर में 78, कांकेर और सूरजपुर में 24-24, रायपुर में 17, नारायणपुर में 13, जांजगीर और धमतरी में दस-दस, बेमेतरा में चार, बिलासपुर और दंतेवाड़ा में दो-दो तथा बलरामपुर जिला अस्पताल में एक मरीज की कीमोथेरेपी की गई।

वहीं, इस अंतराल में 2809 व्यक्तियों में कैंसर की जांच की गई है। इसमें जगदलपुर जिला अस्पताल में 1260, धमतरी में 456, जशपुर में 311, रायपुर में 242, सूरजपुर में 237, जांजगीर में 102, कांकेर में 65, बिलासपुर में 47, बेमेतरा में 31, बलरामपुर में 23, बालोद और अंबिकापुर में दस-दस, दंतेवाड़ा में सात और गरियाबंद जिला अस्पताल में चार लोगों में कैंसर की स्क्रीनिंग की गई।