भिलाई व रिसाली में पकड़ाए फर्जी वोटर, हंगामे से बिगड़े हालात, अधिकारियों की समझाइश से हुए शांत

Fake voters caught in Bhilai and Risali
वोटर लिस्ट में अपना नाम देखता एक मतदाता

भिलाई। नगरीय निकाय चुनाव में फजी वोटिंग के मामले में पकड़ में आ रहे हैं। भिलाई के एक ही वार्ड से दो व रिसाली के एक वार्ड से फर्जी मतदान की शिकायत हुई। भिलाई निगम में फर्जी वोटिंग का मामला शास्त्री नगर वार्ड 27 का है। यहां दो फर्जी वोट की शिकायत पीठासीन अधिकारी से की गई। इस दौरान काफी हंगामा भी देखने को मिला। फर्जी वोटिंग की खबर के बाद भाजपा ने सीधे कांग्रेस पर आरोप लगाया कि वे किसी को भी पकड़ कर ला रहे हैं और वोटिंग करा रहे हैं।

Devendra sahu
Devendra sahu

इसी प्रकार एक अन्य मामला नगर निगम रिसाली के वार्ड 25 व 26 के लिए बने मतदान केन्द्र शासकीय स्कूल रिसाली से सामने आया। यहां  देवेन्द्र साहू नाक का युवक अपना वोटर आईकार्ड लेकर वोट देने पहुंचा तो पीठासीन अधिकारी ने कह दिया तुम्हारा वोट तो डल चुका। यह सुनकर हैरान युवक ने इसकी शिकायत दर्ज कराई तो बाद में उसका वोट फिर से कराया गया। अब सवाल यह है एक युवक के नाम पर दो वोट डाले गए तो किसका वोट निरस्त किया जाएगा। देवेन्द्र साहू का कहना है कि मेरे पहुंचने से पहले ही मेरा वोट किसी ने डाल दिया। पता नहीं कितने लोगों के वोट इस प्रकार डाले जा रहे हों।

पुलिस ने संभाला मोर्चा, अधिकारयों ने दी समझाइश
शास्त्री नगर वार्ड 27 में फर्जी वोटिंग की सूचना के बाद माहौल काफ बिगड़ गया। भाजपा समर्थकों का आरोप था कि कांग्रेस के कार्यकर्ता कहीं से भी लोगों को पकड़कर ला रहे हैं और मतदान करा रहे हैं। स्थिति बिगड़ता देख अतिरिक्त फोर्स को बुलाना पड़ा। इसके बाद अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और स्थिति को संभाला। फर्जी वोटिंग का मामला पकड़ में आते ही अधिकारियो ने परिचय पत्र को अनिवार्य किया इसके बाद भाजपा कार्यकर्ता थोड़े शांत हुए।

भीड़ बढ़ने से बवाल
वार्ड 46 दुर्गा मंदिर में भी आज उस समय विवाद की स्थिति बन गई जब मतदान केन्द्र के गेट के पास भारी भीड़ जमा हो गई। दुर्गामंदिर वार्ड से 10 प्रत्याशी अपना भाग्य आजमा रहे हैं। सभी प्रत्याशी अपने आप को प्रेजेंट करने के लिए मतदान केन्द्र के गेट के पास समर्थकों के साथ जमा हो गए। यहीं नहीं मतदान स्थल पर भी जाकर लोगों चर्चा करते रहे। स्थिति बिगड़ती देख अतिरिक्त बल को बुलाया गया। बल ने सभी प्रत्याशियों व उनके समर्थकों को मतदान केन्द्र से बाहर किया और गेट के आसपास सुरक्षा बढ़ा दी।