41 करोड़ से मिलेगी सुविधाएंः 10 करोड़ की लागत से भिलाई-3 का मिनी स्टेडियम होगा अपग्रेड

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर कहा कि छत्तीसगढ़ में तेजी से अधोसंरचना के क्षेत्र में कार्य किया जा रहा है। देशभर में विविध क्षेत्रों में छत्तीसगढ़ अग्रणी रहा है, चाहे वह स्वच्छता का क्षेत्र हो, चाहे वनोपजों की बिक्री का क्षेत्र हो या वाटर रिचार्जिंग का विषय हो। जिसमें से छत्तीसगढ़ के निकायों को सर्वाधिक पुरस्कार राष्ट्रपति के हाथों मिले।

भिलाई। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज दौरे पर भिलाई तीन-चरौदा पहुंचे थे। जहां जनता को राहत देने के लिए 41 करोड़ के अनेक विकास कार्यों का लोकार्पण और नए निर्माण के लिए भूमिपूजन किया।

यहां लंबे समय से इंतजार में रहे फुटबॉल के स्टेडियम में नए सिरे से सीटिंग व्यवस्था कराई जाएगी। वहीं एक राहत भरी योजना में कुंद्रापारा के विस्थापित लोगों को पट्टा प्रदान किया जाएगा। वहीं स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल में अब अतिरिक्त सीटें सृजित की जाएंगी। यह सभी घोषणाएं मुख्यमंत्री बघेल ने सभा को संबोधित करते हुए की।

छत्तीसगढ़ में तेजी से अधोसंरचना के क्षेत्र में कार्य
मुख्यमंत्री ने इस मौके पर कहा कि छत्तीसगढ़ में तेजी से अधोसंरचना के क्षेत्र में कार्य किया जा रहा है। देशभर में विविध क्षेत्रों में छत्तीसगढ़ अग्रणी रहा है, चाहे वह स्वच्छता का क्षेत्र हो, चाहे वनोपजों की बिक्री का क्षेत्र हो या वाटर रिचार्जिंग का विषय हो। विकास के मामले में छत्तीसगढ़ अग्रणी भूमिका निभा रहा है। अभी हाल ही में स्वच्छता पुरस्कार देशभर में अच्छा कार्य करने वाले निकायों को दिए गए, जिसमें से छत्तीसगढ़ के निकायों को सर्वाधिक पुरस्कार राष्ट्रपति के हाथों मिले।

गोधन न्याय योजना से ग्रामीण अर्थव्यवस्था होगी विकसित
मुख्यमंत्री ने कहा कि गोधन न्याय योजना के माध्यम से तेजी से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को विकसित करने का कार्य किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि नगरीय प्रशासन विभाग द्वारा नगरीय अधोसंरचना के विकास के लिए तेजी से प्रयास किया गया है। भविष्य में भी भिलाई 3 के विकास के लिए हर संभव मदद शासन द्वारा दी जाएगी।

छत्तीसगढ़ ऐसा राज्य जहां गोबर से बिजली बनाने की योजना पर काम
छत्तीसगढ़ ऐसा राज्य है, जिसने गोबर से बिजली बनाने की दिशा में भी पहल की है और गैर परंपरागत ऊर्जा के क्षेत्र में नया प्रयोग करने वाले राज्यों में छत्तीसगढ़ अग्रणी राज्य है। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर कहा कि कोरोना संक्रमण को रोकने और मरीजों के उचित उपचार के लिए राज्य में युद्ध स्तर पर कार्य किए गए। विशेषकर दुर्ग जिले में कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे के नेतृत्व में प्रशासन ने अच्छा कार्य किया।

ट्रांसपोर्ट नगर से विकास की नई राह खुलेगी
सभा में मंत्री गुरु रुद्र ने कहा ट्रांसपोर्ट नगर के माध्यम से विकास की नई राह खुलेगी। इसके साथ ही दो तहसीलों का निर्माण उनके कार्यकाल में हुआ है। अब भिलाई 3 और अहिवारा के लोगों को दुर्ग अथवा पाटन तक जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। उन्होंने कहा कि पार्षदों को ज्यादा से ज्यादा जीता कर शहरी सरकार बनाइए। इस मौके पर जिले के प्रभारी मंत्री मोहम्मद अकबर एवं नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया एवं अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे। इस मौके पर कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने नगर निगम भिलाई-चरोदा में विकास कार्यों का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया।

(TNS)