चौपाल में बन रही चुनावी रणनीति, गुटबाजों पर पैनी निगाह

रायपुर। नगरीय निकाय चुनाव की घोषणा होते ही प्रदेश के अन्य निकायों के साथ बिरगांव नगर निगम में चुनावी गतिविधियां तेज हो गई है। भाजपा और कांग्रेस ने अपने प्रत्याशियों के नामों की घोषणा कर दी है। दोनों ही पार्टियों ने साहू प्रत्याशियों पर भरोसा जताया है। अब यहां टिकट नहीं मिलने से नाराज दावेदारों पर नजर रखी जा रही है। मंगलवार को भाजपा और बुधवार को कांग्रेस ने अपनी सूची जारी की। इसे बाद से रात में बिरगांव चुनावी चौपाल सजी। कुछ चौपाल में चुनाव को लेकर रणनीति बनाई जा रही थी, तो कुछ जगहों पर गुटबाजी करने वालों पर पैनी नजर रखी जा रही थीं। भाजपा और कांग्रेस के साथ निर्दलीय और जकांछ ने भी अपने प्रत्याशी चुनावी समर में उतारे है। 

23 अभ्यार्थियों ने किया है नामाकंन दाखिल
बिरगांव में अब तक दो दर्जन से अधिक अभ्यर्थियों ने अलगअलग वार्डों से अपनाअपना पर्चा दाखिल कर दिया है। वहीं वोटरों से संपर्क भी शुरू कर दिया है। बतादें कि नामांकन जमा करने की अंतिम तारीख तीन दिसंबर है। छह दिसंबर को नाम वापसी के साथ चुनाव चिन्ह का आवंटन किया जाएगा। मतदान 20 दिसम्बर 2021 को प्रातः 8 बजे से अपरान्ह 5 बजे तक होगा।

पानी और प्रदूषण बड़ा चुनावी मुद्दा

औद्योगिक क्षेत्र बिरगांव में प्रदूषण और पीने का शुद्द पानी बड़ा चुनावी मुद्दा बना हुआ है। गर्मी के दिनों में भीषण जलसंकट से जूझने वाले मतदाताओं को इस बार इससे निजात चाहिए, इसलिए वह ऐसे प्रत्याशी को विजयश्री की माला पहनाना चाहते है, जो उनकी पानी की समस्या को दूर करें। वहीं प्रदूषण भी एक ऐसी बड़़ी समस्या है कि लोगों का जीन दूभर हो गया है।