छत्तीसगढ़ में नशे के कारोबार को पनपने न दें, दूसरे राज्यों से आ रहे नशीली पदार्थों को रोकना जरूरीः सीएम भूपेश

रायपुर। कलेक्टरों की कॉन्फ्रेंस के बाद आज सीएम भूपेश बघेल (CM Bhupesh Baghel) की अध्यक्षता में न्यू सर्किट हाऊस ऑडिटोरियम (New Circuit House Auditorium) में पुलिस अधीक्षकों (Superintendent of Police) और पुलिस महानिरीक्षकों (Inspector General of Police) की कॉन्फ्रेंस की जा रही है। इस बैठक में सीएम भूपेश कड़े निर्देश दिए। इस कॉन्फ्रेंस में गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू (Tamradhwaj Sahu), कृषि मंत्री रवींद्र चौबे ( Ravindra Choubey), मुख्य सचिव अमिताभ जैन, गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, पुलिस महानिदेशक डी. एम. अवस्थी सहित गृह विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में नशे के कारोबार को पनपने न दिया जाए। दूसरे राज्यों से आ रहे नशीले पदार्थ को रोकना चाहिए। इसके लिए पुलिस अधीक्षक कड़ी कार्यवाही करें। साथ ही छोटी-छोटी घटनाओं को साम्प्रदायिक और अराजक तत्व बड़ा रूप देने की चेष्टा कर रहे हैं। सभी पुलिस अधीक्षक उन्हें पहचानें और सख्ती से कार्रवाई करें।

भूपेश बघेल ने कहा कि कोविड महामारी के दौरान हमारी सरकार, प्रशासन और पुलिस ने अभूतपूर्व कार्य किया है। हर स्तर पर, थाना, अनुविभाग, ज़िला और रेंज लेवल पर सूचना तंत्र विकसित करें। उन्होंने कहा कि छोटी घटनाओं का राजनीतिक लाभ लेने अवसरवादी तत्व अफ़वाह, दुष्प्रचार और भ्रामक समाचार फैलाते हैं, उनकी पहचान कर कार्यवाही करना ज़रूरी है।

सोशल मीडिया पर भी रखें ध्यान
सोशल मीडिया अफ़वाह फैलाने का सबसे बड़ा साधन बन गया है। सोशल मीडिया में भी एक सुदृढ़ सूचना तंत्र विकसित करना ज़रूरी है। पुलिस अधीक्षक हर ज़िले में सोशल मीडिया मॉनिटरिंग की स्पेशल टीम बनाए, जो सोशल मीडिया में अफ़वाह फैलाने वालों का चिन्हांकन कर कार्यवाही करें।
(TNS)