जिला जेल ब्रेकः दीवारों की ऊंचाई कम, लाइट लगाए न सुरक्षा घेरा, कमियों का बंदी ने उठाया फायदा

इतनी बड़ी घटना के बाद भी जेल विभाग ने इसकी सुध नहीं ली, जिसके बाद एक बार फिर जेल ब्रेक की घटना सामने आई है। माना जा रहा है कि इस घटना की प्रमुख वजह जेल की दीवार की कम ऊंचाई, वाल में सोलर वायर का नहीं लगना, साथ ही जेल की चारों तरफ लाइट नहीं होने से इस तरह की घटना हो रही

मुंगेली। रायपुर (Raipur) संभाग अंतर्गत मुंगेली (mungeli) जिला जेल (district jail) में व्याप्त कमियों का बंदी (prisoner) ने पूरा लाभ उठाया और जेल की दीवार फांदकर (wall over) फरार (absconding) हो गया। जेल की दीवार की ऊंचाई कम होने के साथ ही उस पर किसी तरह का कोई सुरक्षा तार का घेरा नहीं डाला गया है। कमियों को भांंपकर दिनदहाड़े भाग गया।

बता दें कि जिला जेल मुंगेली से दुष्कर्म का विचाराधीन बन्दी (undertrial prisoner) जेल की दीवार फांदकर फरार हो गया। उसके बाद से विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। दिन को ही सुरक्षा घेरे से नजर बचाते हुए बंदी दीवार तक पहुंच गया, यही वजह है कि प्रशासन और जेल विभाग के अधिकारियों (department officials) ने जेल का तत्काल मुआयना किया।

पहले भी भाग चुके हैं यहां से 4 बंदी
कमियां चाहे जो भी हो, पर घटना के समय ड्यूटी पर तैनात एक प्रहरी को जेल अधीक्षक नन्दकुमार शर्मा ने निलंबित कर दिया है। इससे पहले भी वर्ष 2019 में जेल ब्रेक की एक बड़ी घटना सामने आई थी। जहां 4 विचाराधीन बन्दी फरार हो गए थे। हालांकि उसमें से 3 बंदियों को पकड़ लिया गया, लेकिन आज भी उस घटना का हत्या में विचाराधीन बन्दी अब तक फरार ही है।

फिर भी जेल प्रबंधन ने नहीं ली सबक
इतनी बड़ी घटना के बाद भी जेल विभाग ने इसकी सुध नहीं ली, जिसके बाद एक बार फिर जेल ब्रेक की घटना सामने आई है। माना जा रहा है कि इस घटना की प्रमुख वजह जेल की दीवार की कम ऊंचाई, वाल में सोलर वायर का नहीं लगना, साथ ही जेल की चारों तरफ लाइट नहीं होने से इस तरह की घटना हो रही है।

अब कलेक्टर कह रहे हैं कमियां दूर करें
फिलहाल मुंगेली कलेक्टर अजीत वसन्त और जेल अधीक्षक ने जेल में कमियों के लिए दिशा निर्देश के साथ ही जल्द ही कमियों को दुरुस्त करने की बात कही है। बता दें कि ऐसे संवेदनशील जगहों पर शासन-प्रशासन दोनों की सक्रियता नहीं दिखती, तो अक्सर ऐसी ही घटना सामने आती रहती है। इसका पूरा लाभ उठाते हुए बंदी ऐसी घटना करने की योजना बनाते हैं।

(TNS)