VIDEO : सीएम भूपेश बघेल को युवक ने सोटे से पीटा, भिलाई में भी कांग्रेस नेता ने खाए चाबुक

पिछले साल भी युवक के पिता ने की थी सीएम की पिटाई

रायपुर। सूबे के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की दुर्ग के जंजगिरी गांव में एक युवक ने सोटे (कोड़े) से पिटाई कर दी। युवक सोटे से पीटता रहा और मुख्यमंत्री मुस्कुराते रहे। यह कोई विवाद का मामला नहीं था, बल्कि यहां की एक परंपरा है। प्रदेश के लोगों की सुख-समृदि्ध के लिए हर साल यह परंपरा निभाई जाती है और सीएम सोटे का वार सहते हैं। इस बार जिस युवक ने सीएम पर सोटे से वार किया, उसके पिता ने पिछले साल यह परंपरा निभाई थी।

दीपावली के बाद गोवधर्न पूजा के दिन हर साल प्रदेश में यह परंपरा निभाई जाती है। इसमें प्रदेश के मुखिया जनता की सुख-समृदिध्, खुशहाली के लिए बैगा के सोटे का प्रहार सहते हैं। इसके लिए कुश का एक सोटा बनाया जाता है। इसके बाद सीएम पर इसका प्रकार किया जाता है। इस बार दुर्ग जिले के जंजगिरी में यह परंपरा बीरेन्द्र ठाकुर ने निभाई, जबकि पिछले साल बीरेन्द्र के पिता भरोसे ठाकुर ने इस परंपरा का निर्वहन किया था। इस परंपरा के बाद सीएम ने गोवर्धन पूजा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गोवर्धन पूजा गोवंश की वृदि्ध से जुड़ी है। हमारे पास जितना समृद्ध गोवंश होगा हमारी स्थिति उतनी ही बेहतर होगी। इसी मान्यता के चलते गांवों में गोवर्धन पूजा का विशेष महत्व है। गांवों में इस पर्व को बड़ी ही श्रद्धा से मनाया जाता है। इस बीजा के जरिए हम गोवंश के प्रति अपनी कृतज्ञता भी प्रकट करते हैं। मैं भी हर साल आप लोगों के बीच पहुंचता हूं। मुझे इसमें खुशी मिलती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे पूर्वजों ने बहुत सुंदर छोटी-छोटी परंपराओं का सृजन किया और इन परंपराओं के माध्यम से हमारे जीवन में उल्लास भरता है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि अपनी माटी की अस्मिता को सहेजना उसका संवर्धन करना हम सब का कर्तव्य है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी ग्रामीण संस्कृति के अधिकतर पर्व कृषि को बढ़ावा देने वाले हैं। इनके माध्यम से हम जमीन से जुड़ते हैं। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर गौरा-गौरी पूजा में भी भाग लिया।

भिलाई में कांग्रेस नेता धर्मेन्द्र ने निभाई परंपरा
इधर भिलाई में कांग्रेस नेता धर्मेन्द्र यादव ने लोगों की सभी विघ्न-बाधाएं दूर करने की कामना के साथ सोठे खाएं| इसके बाद उन्होंने ईश्वर से लोगों की सुख-समृद्धि की कामना की|

(TNS)