मृत किसानों और पत्रकार के परिजनों को 50-50 लाख रुपए देगी छत्तीसगढ़ सरकारः सीएम भूपेश

छत्तीसगढ़ सरकार

रायपुर। यूपी के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में चार किसानों और एक पत्रकार की जीप से कुचलकर हत्या कर दी गई। इन पांच मृतकों के परिवार को छत्तीसगढ़ सरकार 50-50 लाख रुपए का मुआवजा देगी। इसकी घोषणा खुद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज लखनऊ हवाई अड्‌डे (Lucknow Airport) पर की। जानकारी के अनुसार कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ आज दोपहर बाद लखनऊ पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel)को स्थानीय प्रशासन ने एक बार फिर रोक लिया था।

पुलिस अधिकारी राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और दोनों मुख्यमंत्रियों को पुलिस की गाड़ी से लखीमपुर ले जाना चाहते थे। इसकी वजह से विवाद की स्थिति बनी। राहुल गांधी ने पुलिस की गाड़ी से जाने से इन्कार कर दिया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि अगर प्रशासन हमें जाने की अनुमति दे रहा है तो हम सिर्फ अपनी गाड़ियों में जाएंगे, किसी कैद में नहीं। उसके बाद सभी लोग हवाई अड्‌डे के भीतर ही धरना देकर बैठ गए। बाद में सरकार झुकी। कांग्रेस नेताओं को उनकी गाड़ी से लखीमपुर जाने की अनुमति दे दी गई।

मुआवजा ही मुआवजा
इसी बीच मुख्यमंत्री ने प्रेस चर्चा में कहा छत्तीसगढ़ किसानों का प्रदेश है। राज्य सरकार की ओर से वे लखीमपुर में मारे गए किसानों और पत्रकार के परिवार को 50-50 लाख रुपए देने की घोषणा कर रहे हैं। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने भी ऐसी ही घोषणा की। उत्तर प्रदेश सरकार पहले ही सभी मृतकों को 45-45 लाख मुआवजा, परिवार से एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी देने की घोषणा कर चुकी है।

लखीमपुर जाने रवाना हुए कांग्रेस नेता
प्रशासन से सहमति बन जाने के बाद राहुल गांधी, भूपेश बघेल और चरणजीत सिंह चन्नी आदि हवाई अड्‌डे से बाहर निकले हैं। हवाई अड्‌डे के बाहर कांग्रेस कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ भी उनके साथ हो ली है।
TNS