सीनियर नेशनल पावर लिफ्टिंग चैंपियनशिप में छत्तीसगढ़ को मिले एक गोल्ड सहित तीन पदक, अंतिम दिन जेबा ने दिलाया रजत

सीनियर राष्ट्रीय पावर लिफ्टिंग प्रतियोगिता बेंगलुरु में 27 से 30 अप्रैल तक खेली गई। इसमें छत्तीसगढ़ के 8 पॉवरलिफ्टरों ने भाग लिया।

सीनियर नेशनल पावर लिफ्टिंग चैंपियनशिप में अंतिम दिन जेबा ने दिलाया रजत

भिलाई। कर्नाटक बेंगलुरु में हुई सीनियर नेशनल पावर लिफ्टिंग प्रतियोगिता में छत्तीसगढ़ ने तीन पदक हासिल किए। छत्तीसगढ़ को इस प्रतिष्टित प्रतियोगिता में एक स्वर्ण, एक कांस्य व एक रजत पादक मिला। प्रतियोगिता के अंतिम दिन जेबा अख्तियार ने महिलाओं की 84 किलो वजन समूह में 157 किलो बेंच प्रेस लिफ़्ट कर छत्तीसगढ़ राज्य को रजत पदक दिलाया।

इससे पहले प्रतियोगिता के दूसरे दिन अंतरराष्ट्रीय पावर लिफ्टर संतोषी मांझी ने छत्तीसगढ़ को एक स्वर्ण पदक व एक कांस्य पदक दिलाया था। प्रतियोगिता के अंतिम दिन जेबा अख्तियार ने पदक की उम्मीद जताई थी और उसने अंत में छत्तीसगढ़ को रजत पदक दिलाया। 84 किलो वजन समूह में 157 किलो बेंच प्रेस लिफ़्ट किया था। जेबा अख्तियार ने स्क्वाट में 235 किलो, बेंचप्रेस में 157 किलो और डेड लिफ़्ट में 1177 किलो तीनो इवेंट में कुल 570 किलो लिफ़्ट कर चौथा स्थान प्राप्त किया।

बता दें बेंगलुरु में यह प्रतियोगिता 27 से 30 अप्रैल तक खेली गई। सीनियर राष्ट्रीय पावर लिफ्टिंग प्रतियोगिता में संतोषी मांझी ने छत्तीसगढ़ को एक मात्रा स्वर्ण पदक दिलाकर हमारे राज्य को गवरान्वित किया है। इस राष्ट्रीय प्रतियोगिता में पुरुष वर्ग में सी मोहन कुमार और जयदीप साहू ने अपने अपने वर्ग में 7 वें स्थान पर रहे। इसी प्रकार ब्लेसन बोस्को को 11 वां स्थान मिला। प्रतियोगिता में आसिफ़ अली ने भी श्रेष्ठ प्रदर्शन किया।

इसी प्रकार महिला वर्ग में संतोषी मांझी स्वर्ण पदक, जेबा अख़्तियार – रजत पदक, अंजु सिंह 9 वां स्थान और ऐश्वर्या नंदी ने 6 वां स्थान प्राप्त किया है। छत्तीसगढ़ टीम के कोच, अंतर राष्ट्रीय पॉवर लिफ़्टर व निर्णायक कृष्णा साहू  तथा दल प्रबंधक व निर्णायक नस्कर टण्डन के प्रयास से टीम को यह सफलता प्राप्त हुई है।

छत्तीसगढ़ पॉवर लिफ़्टिंग संघ के अध्यक्ष बीऐल चंदवानी (CGM, BSP) एवं संघ के समस्त पदाधिकारियों, राज्य के समस्त पॉवर लिफ़्टरों, भिलाई इस्पात संयंत्र खेल विभाग के अधिकारियों, छत्तीसगढ़ खेल एवं युवा कल्याण विभाग, छत्तीसगढ़ अलिम्पिक संघ के समस्त पदाधिकारियों और खेल प्रेमियों ने इस सफलता के लिख खिलाडियों को शुभकामनाएं दी है।