पकड़ा गया मास्टरमाइंड : रिश्तेदारों संग बनाई थी योजना, कार का शीशा तोड़कर 32 लाख का सोना पार किया था

पुलिस इस मामले की जांच कर रही थी। इसी बीच संदेहियों से पूछताछ में पूरे मामले का खुलासा हो गया। पता चला कि जिस कार में आए थे उस कार का चालक ही मास्टमाइंड सरगना निकला।

कोरबा (korba)। पास कॉलोनी स्थित एक होटल (hotels) से सराफा कारोबारी (bullion trader) की कार से 32 लाख का सोना चोरी (gold theft) करने वालों तक पुलिस पहुंच गई है। घटना का मास्टरमाइंड (mastermind) कोई और नहीं, बल्कि कार का चालक (Driver) ही निकला। ड्राइवर ने अपने दो रिश्तेदारों (relatives) के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया था।

आरोपियों ने आधीरात को होटल की पार्किंग में खड़ी कार का शीशा तोड़कर (breaking the glass) उसमें रखे जेवरातों की चोरी की घटना को अंजाम दिया था। पुलिस ने तीनों आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। उनके पास से पूरा जेवर भी पुलिस ने बरामद कर लिया है। रतन ज्वेलर्स के 2 कर्मचारी आकाश वालेचा और कार का चालक रवि साहू कोरबा सोने का सेल करने गए थे।

रामपुर थाना क्षेत्र की पार्किंग में हुई थी घटना

दरअसल कोरबा जिला मुख्यालय के रामपुर थाना (Rampur Thana) क्षेत्र के निहारिका स्थित होटल विनायक रीजेंसी में बीते सप्ताह कार का शीशा तोड़कर सोने के जेवर समेत नकदी चोरी कर लिया गया था। मामले में रायपुर के ज्वेलरी शॉप कर्मचारी आकाश बवेचा ने रामपुर चौकी में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। जानकारी दी गई थी कि कार का शीशा तोड़कर 1 किलो 100 ग्राम सोना और 2 लाख 90 हजार नगदी चोरी कर ली गई है। इस दौरान यह पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गई थी।

संदेह पर की गई पूछताछ

पुलिस इस मामले की जांच कर रही थी। इसी बीच संदेहियों से पूछताछ में पूरे मामले का खुलासा हो गया। पता चला कि जिस कार में आए थे उस कार का चालक ही मास्टमाइंड सरगना निकला। उन्होंने अपने दो रिश्तेदारों के साथ मिलकर पूरी साजिश रची और घटना को अंजाम दिया। कोरबा पुलिस ने रायपुर के कबीर नगर से आरोपियों को गिरफ्तार किया है। चोरी के लगभग सभी जेवर पुलिस ने बरामद कर लिए हैं।
(TNS)