ब्रेकिंगः कल डूबे दो की तलाश जारी, इंद्रावती नदी में नाव पलटने से आज फिर एक युवक बहा

बीजापुर जिले के भैरमगढ़ अनुविभाग का है। तहसीलदार जुगल किशोर पटेल ने दी जानकारी है कि राहत बचाव के लिए नगर सेना का दल घटनास्थल पहुंच गया है। श्याम यादव ग्राम मर्कापाल से भैरमगढ़ आ रहा था। इसी दौरान नाव के पलटने से नदी में वह बह गया। रविवार को एनएमडीसी के दो कर्मचारी नदी में नहाने के दौरान भंवर में फंसकर डूब गए।

बीजापुर। इंद्रावती नदी (Indravati river) में आज फिर एक घटना घट गई। नाव (boat) पलटने (flip) से एक युवक बह गया। वहीं कल रविवार को एनएमडीसी के दो कर्मचारी नदी में नहाने के दौरान भंवर में फंसकर (trapped in a vortex) डूब गए, जिनका अब तक कोई पता नहीं चल पाया है।

सोमवार को हुई घटना में मर्कापाल से भैरमगढ़ आते समय इंद्रावती नदी में नाव पलटने से एक युवक के बह जाने की घटना हो गई। घटना की जानकारी मिलते ही राहत एवं बचाव के लिए राजस्व विभाग की टीम घटनास्थल पहुंची है।

भैरमगढ़ के पास बीच धार में पलटी नाव

जानकारी अनुसार यह मामला छत्तीसगढ़ (chhattisgarh) के बीजापुर (bijapur) जिले के भैरमगढ़ (bhairamgarh) अनुविभाग (subdivision) का है। तहसीलदार जुगल किशोर पटेल ने दी जानकारी है कि राहत बचाव के लिए नगर सेना का दल घटनास्थल पहुंच गया है। इंद्रावती नदी से नाव पर सवार होकर श्याम यादव ग्राम मर्कापाल से भैरमगढ़ आ रहा था। इसी दौरान नाव के पलटने से नदी में वह बह गया।

दूसरी घटना बारसुर सात धार के पास घटी

दूसरी घटना में इंद्रावती नदी में नहाने के लिए उतरे एनएमडीसी के दो कर्मचारी भंवर में फंसने से डूब गए। रविवार की शाम घटी घटना में अब तक उनकी तलाश नहीं हो पाई है। यह घटना बारसुर सात धार (barsur seven edge) के पास घटी

जानकारी अनुसार जिले के बारसुर थाना क्षेत्र में परिवार के साथ पिकनिक मनाने आए किरंदुल एनएमडीसी के दो कर्मचारी इंद्रावती नदी में नहाने के लिए उतरे थे। पर वे नदी के भंवर में फंस कर बह गए।

10 गोताखोरों ने रात तक तलाश की

घटना की सूचना पर पहुंचे 10 गोताखोरों (divers) की टीम कर्मचारियों की तलाश में जुटी हुई है। पर अंधेरा होने की वजह से शाम तक उनका कोई सुराग नहीं मिला पाया। मामले में किरंदुरल के एनएमडीसी में कार्यरत संज राय व दीप दत्ता पिकनिक (Picnic) मनाने परिवार के साथ बारसुर सात धार गए हुए थे। इसी दौरान दोनों कर्मचारी नहाने के लिए नदी में उतर गए।

अंधेरे की वजह से रोका गया तलाशी अभियान

आसपास के लोगों ने पुलिस को जानकारी दी। पुलिस के मार्गदर्शन में गोताखोरों ने पहुंच कर तलाश शुरू कर दी। पर दोनों का कोई पता नहीं चल सका। अंधेरे की वजह से तलाशी अभयान रोकनी पड़ी। वहीं सुबह से फिर खोज अभियान शुरू किया गया। समाचार लिखे जाने तक दोनों कर्मचारी का कोई पता नहीं चल पाया था
(TNS)