Breaking: भिलाई तीन वार्ड-2, हथखोज के पार्षद सूरज बंछोर की हत्या

छावनी सीएसपी विश्वास चंद्राकर के अनुसार रात 9 बजे से पहले दोस्तों के साथ वह तालाब के पास बैठे थे। दोस्तों के चले जाने के थोड़ी देर बाद जब उसे फोन किया गया, तो फोन नहीं उठाया|

पार्षद सूरज बंछोर। फाइल फोटो।

भिलाई। सोमवार की रात लगभग नौ बजे भिलाई-तीन चरौदा निगम के वार्ड-2, औद्योगिक क्षेत्र हथखोज से कांग्रेस (Congress) पार्षद (councilor) सूरज बंछोर (39 वर्ष) की हत्या (Murder) हो गई। 8 से 9 बजे के बीच वे दोस्तों के साथ हथखोज (Handkhoj) गांव के बंधवा तालाब किनारे (by the pond) बैठे थे|

छावनी सीएसपी (Cantonment CSP) विश्वास चंद्राकर के अनुसार रात 9 बजे से पहले पार्षद बंछोर तालाब के किनारे दोस्तों के साथ बैठे थे। सीएसपी ने कहा ये जानकारी मिली है कि उसके बाद दोस्त वहां से चले गए। दोस्तों के जाने के थोड़ी देर बाद जब उन्हें फोन किया गया, तो फोन नहीं उठाया|

पार्षद की हत्या का कारण और हत्यारे के बारे में अभी कुछ भी पता नहीं चल सका है। मामले में यह जानकारी मिली है कि दो दिनों पहले सूरज बंछोर का किसी के साथ विवाद होने की चर्चा चल रही है। उल्लेखनीय है कि पार्षद सूरज बंछोर का एक दिन पहले ही 14 नवंबर को जन्मदिन था। भिलाई-3 पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है। समाचार लिखे जाने तक रात डेढ़ बजे तक किसी भी आरोपी के पकड़े जाने की सूचना नहीं मिली थी। वहीं अस्पताल के बाहर परिजन, ग्रामीण व समर्थकों की भीड़ लगी रही।

सिर, चेहरा और पीठ पर हथियार के निशान
पुलिस के अनुसार उसके बाद दोस्तों ने जब उसे ढूंढते हुए तालाब पहुंचे, तो पार्षद सूरज जमीन पर पड़े हुए थे| उसके सिर, चेहरा और पीठ पर धारदार हथियार (sharp weapon) के निशान थे। पूरा शरीर खून से लथपथ था।

जांच के बाद चिकित्सकों ने मृत घोषित किया
स्थिति को देखते हुए उन्हें तत्काल ग्रामीणों की मदद से सुपेला के शासकीय शास्त्री अस्पताल (Government Shastri Hospital) लाया गया| जहां से उसे बड़े अस्पताल ले जाने की सलाह दी गई| इसके बाद उसे बीएम शाह अस्पताल (BM Shah Hospital) ले जाया गया, वहां चिकित्सकों ने जांच के बाद पार्षद सूरज को मृत घोषित कर दिया| पुलिस मामले की जांच में लगी हुई है।

(TNS)