ब्रेकिंगः खेत में दंपती की हत्या, अंदर पड़े थे खून से लथपथ शव, बाहर ताला लगा था

महावीर और उसकी पत्नी के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने मामले को गम्भीरता से लिया और जमीन मालिक देशमुख के कहने पर घर का ताला तोड़ा गया। भीतर पति-पत्नी की खून से लथपथ लाश पड़ी थी।

राजनांदगांव (Rajnandgaon)। जिले के घुमका थाना (Ghumka police station) क्षेत्र के ग्राम सलोनी के खेत (Farm) में काम करने वाले दंपती की हत्या (couple murder) हो गई है। पुलिस (police) जांच में प्रथम दृष्टया हत्या का माना जा रहा है। फॉरेन्सिक टीम (forensic team) ने स्थल मुआयना किया, पर हत्यारों का कोई सुराग (clue) नहीं मिल पाया।

पुलिस के मुताबिक घटना बीते बुधवार शाम 7 बजे से गुरुवार शाम 5 बजे के बीच की है। जानकारी अनुसार हरियाणा के कथैल निवासी 42 वर्षीय महावीर सिंह जाट और उनकी पत्नी 37 वर्षीय मीनाक्षी सिंह खेत में बने घर में रहकर खेती-बाड़ी करते थे।

बुधवार की रात घटना का अनुमान

काम करने वाले ग्रामीणों ने बुधवार की शाम 7 बजे तक उन्हें देखा था। दूसरे दिन गुरुवार सुबह जब खेत में काम करने पहुंचे, तो घर के बाहर ताला लगा था। जमीन मालिक दुर्ग, कसारीडीह निवासी वानीराव देशमुख को जानकारी दी गई।

ताला तोड़ा तो घर के अंदर मिले

उसके बाद जमीन मालिक देशमुख ने घुमका थाना पहुंचकर महावीर और उसकी पत्नी के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने मामले को गम्भीरता से लिया और जमीन मालिक देशमुख के कहने पर घर का ताला तोड़ा (broke the lock) गया। भीतर पति-पत्नी की खून से लथपथ लाश पड़ी थी।

फॉरेंसिक टीम ने की जांच
घुमका पुलिस (Ghumka Police) की सूचना पर एएसपी प्रज्ञा मेश्राम, खैरागढ़ एसडीओपी जीसी पति समेत पुलिस के आला अधिकारी मौके पर डॉग स्क्वाड की टीम के साथ पहुंचे। भिलाई से फॉरेंसिक टीम की जांच में पुलिस को कोई सुराग नहीं मिला।

जमीन रेग में लेकर करते थे खेती
एएसडीओपी पति ने बताया मृतक महावीर दुर्ग के वानीराव से सलोनी खार से लगे 28 एकड़ जमीन रेघ में लेकर कपास की खेती कर रहा था। साथ ही गुंडरदेही के डंगनिया, अर्जुंदा से लगे ढाबा और कटनी में भी खेती कर रहा था। घुमका पुलिस मृतक के परिजनों को घटना की सूचना दे दी गई है।
(TNS)