कांग्रेस के घोषणा पत्र झूठ का पुलिंदा, जनता से माफी मांगें मरकाम- भाजपा अध्यक्ष विष्णुदेव साय

रायपुर। छत्तीसगढ़ में नगरीय निकाय चुनाव और निकाय उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने अपना 30 सूत्रीय घोषणा पत्र जारी कर दिया है। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम, कृषि मंत्री रविंद्र चौबे और वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने शुक्रवार को प्रेस वार्ता के बाद इसे जारी किया। मगर, इसके थोड़ी ही देर बाद भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कांग्रेस के घोषणा पत्र को झूठ के पुलिंदे की पुनरावृत्ति करार दे दिया। उन्होंने कहा कि काठ की हांडी बार बार नहीं चढ़ती। निकाय चुनाव के परिणाम और कांग्रेस की पराजय के साथ झूठे वादे कर जनता को छलने और ठगने का बार बार प्रयास करने वाले कांग्रेस के झूठे नेताओं को यह बात समझ में आ जाएगी।

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कहा की कांग्रेस के नेताओं को झूठे वादों की पुनरावृत्ति करने से पूर्व खुद से सवाल करना चाहिए था कि आधे से अधिक कार्यकाल पूर्ण कर चुकी कांग्रेस की सरकार अब तक पट्टे का वितरण क्यों नहीं कर पाई? 24 घंटे स्वच्छ जल का वादा भी क्यों अधूरा रह गया? मच्छर मुक्त शहर का वादा करने वाली कांग्रेस जनता को डेंगू के दंश से आखिर क्यों नहीं बचा पाई?

उन्होंने कहा कि झूठे वादों की पुनरावृत्ति करने वाली कांग्रेस को जनता के सामने स्पष्टिकरण देना चाहिए कि तीन वर्षों में विकास के नाम पर क्या किया और क्यों उन्हें चुनाव आते ही उन्हीं झूठे वादों की पुनरावृत्ति करनी पड़ रही है? इस बार संपत्तिकर आधा करने का वादा क्यों भूल गए। आखिर उनका इरादा क्या है यह स्पष्ट करें? भाजपा प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम को निकाय चुनाव के लिए कांग्रेस द्वारा जारी झूठे वादों की पुनरावृत्ति वाले घोषणा पत्र के अंत में क्षमायाचना करने और जनता से माफी मांगने की सलाह दी है।