लोन वर्राटू को बड़ी सफलताः दुर्दांत नक्सली कमांडर दंपती का समर्पण, इन पर था 10 लाख का इनाम घोषित

दंतेवाड़ा के एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव ने बताया कि खूंखार नक्सली दंपती ने सरेंडर किया है। सरेंडर करने वाले नक्सलियों में पोज्जा उर्फ संजू माड़वी पामेड़ (24 वर्ष) एरिया कमेटी के प्लाटून नंबर 9 का कमांडर है। उसकी पत्नी लक्खे उर्फ तुलसी माड़वी (22 वर्ष) पामेड़ एरिया कमेटी की सदस्य और डीवीसी सुरक्षा दलम की कमांडर है।

रायपुर (Raipur)। दक्षिण बस्तर के बुरकापाल, मिनपा, टेकलगुड़ा की बड़ी नक्सली घटनाओं में शामिल रहे दस लाख के इनामी (Award) दुर्दांत नक्सली कमांडर (Naxalite Commander) दंपती (couple) ने शांति की राह पकड़ ली है। उन्होंने अपने को समर्पण (surrender) कर दिया है। इन पर 80 से ज्यादा जवानों की हत्या करने के आरोप हैं।

बता दें कि छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में नक्सलियों के खिलाफ लगातार चलाए जा रहे लोन वर्राटू (घर वापस आइये) अभियान को बड़ी सफलता मिल रही है। इसी के तहत गुरुवार को दंतेवाड़ा पुलिस के सामने खूंखार नक्सली दंपती ने आत्मसमर्पण कर दिया। दोनों पर छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा पांच-पांच लाख रुपए का इनाम घोषित है। दोनों नक्सलियों पर 80 से ज्यादा जवानों की हत्या, हथियार लूटने, फोर्स को नुकसान पहुंचाने के मामले कई थानों में दर्ज है। कमांडर नक्सली दंपती के आत्मसमर्पण को बड़ी सफलता मानी जा रही है।

दोनों हैं बीजापुर के मूल निवासी
दंतेवाड़ा (Dantewada) के एसपी SP डॉ. अभिषेक पल्लव ने बताया कि खूंखार नक्सली दंपती ने सरेंडर किया है। सरेंडर करने वाले नक्सलियों में पोज्जा उर्फ संजू माड़वी पामेड़ (24 वर्ष) एरिया कमेटी के प्लाटून नंबर 9 का कमांडर है। उसकी पत्नी लक्खे उर्फ तुलसी माड़वी (22 वर्ष) पामेड़ एरिया कमेटी की सदस्य और डीवीसी सुरक्षा दलम की कमांडर है। दोनों बीजापुर के मूल निवासी हैं। दोनों नक्सली दक्षिण बस्तर के बुरकापाल, मिनपा, टेकलगुड़ा, चिंतागुफा सहित हर छोटी-बड़ी घटना में शामिल रहे हैं। फोर्स को नुकसान पहुंचाने व मुठभेड़ के बाद जवानों के हथियार भी लूटने के आरोपी हैं। दोनों पति-पत्नी पर 5-5 लाख रुपए का इनाम घोषित है।

इनके कारण इतने जवान हुए शहीद
बता दें कि बुरकापाल के नक्सली मुठभेड़ में 25, मिनपा में 26, टेलकगुड़ा में 22, चिंतागुफा में 8 और इरपानार में 4 जवान शहीद हुए थे। समर्पण के दौरान सीआरपीएफ के उप पुलिस महानिरीक्षक विनय कुमार सिंह, एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव, सीआरपीएफ के द्वितीय कमाण्ड अधिकारी अरूण कुमार सज्जा, एएसपी राजेंद्र जायसवाल उपस्थित रहे।

अब तक 459 नक्सली कर चुके समर्पण
दंतेवाड़ा एसपी डॉ. अभिषेक पल्लव ने बताया कि आत्मसमर्पित नक्सली दंपती दक्षिण बस्तर में अलग-अलग घटनाओं में लगभग 100 से ज्यादा जवानों की हत्या व फोर्स को नुकसान पहुंचाने की घटना में शामिल रहे हैं। मुठभेड़ के बाद फोर्स के AK-47 समेत कई हथियार भी लूटे हैं। नक्सलियों से पूछताछ में कई अहम जानकारी मिली है। उन्होंने बताया कि लोन वर्राटू अभियान के तहत अब तक 119 इनामी माओवादी सहित कुल 459 नक्सली आत्मसमर्पण कर मुख्यधारा में लौट चुके हैं।

(TNS)