Big Breaking : बालोद की नाबालिग से लेह-लद्दाख में रेप, अपहरण कर 8 माह तक रखा बंधक… पुलिस गिरफ्त में आरोपी

पुलिस गिरफ्त में आरोपी

तीरंदाज, बालोद। बालोद पुलिस ने आठ माह पहले हुए नाबालिग के अपहरण का मामला सुलझा लिया है। गांव की नाबालिग को युवक लेह लद्दाख ले गया और वहां एक कमरे में रखा और उससे दुष्कर्म भी किया। आठ माह बाद पुलिस को उसका सुराग मिला। बालोद पुलिस की एक टीम लेह लद्दाख पहुंची और वहां नाबालिग को बरामद कर आरोपी युवक को गिरफ्तार कर ले आई। पुलिस ने इस मामले में आरोपी पर धारा 363 व 376 कार्रवाई की है।

मिली जानकारी के अनुसार 1 अक्टूबर 2021 को डौंडीलोहारा थाने में नाबालिग के परिजनों ने उनकी बेटी के अपहरण की शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत दर्ज होने के बाद पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ धारा 363 के तहत अपराध कर जांच शुरू की गई। पुलिस ने नाबालिग की तलाश शुरू कर दी। नाबालिग का मोबाइल बंद होने के कारण को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

इसके बाद पुलिस को आरोपी का सुराग मिल गया। पुलिस को संदेह था कि बल्लुटोला निवासी तिलकराम मानिकपुरी ने ही नाबालिग का अपहरण किया। इसके बाद साइबर सेल को तिलकराम के साथ ही नाबालिग की लोकेशन तलाशने की जिम्मेदारी दी। आरोपी ने दोनों मोबाइल को स्विच ऑफ कर रखा था। इसकी वजह से पुलिस को आरोपी का लोकेशन नहीं मिल रहा था। काफी मशक्कत के बाद पुलिस को तिलकराम की लोकेशन लेह लद्दाख मिली।

आरोपी का लोकेशन मिलने के बाद एसपी जितेन्द्र कुमार यादव के निर्देश पर पुलिस की एक टीम को लेह लद्दाख रवाना किया गया। लोकेशन के आधार पर पुलिस की टीम लेह जिला के निवामा थाने पहुंची। स्थानीस पुलिस की मदद से पुलिस ग्राम माहे पहुंची और आरोपी तिलकराम को गिरफ्तार कर नाबालिग को बरामद किया। इसके बाद पुलिस आरोपी व नाबलिग को लेकर वापस पहुंची। वापस पहुंचने के बाद इस बात का भी खुलासा हुआ कि आरोपी युवक ने नाबालिग से दुष्कर्म भी किया। इसके बाद आरोपी के खिलाफ अपहरण के साथ रेप की भी धारा जोड़ी और उसे जेल भेज दिया गया।