Helicopter Crash Update: सीडीएस रावत के घर पहुंचे रक्षा मंत्री, हादसे में 11 लोगों की मौत की खबर

इस हेलीकॉप्टर में सीडीएस बिपिन रावत के साथ उनकी पत्नी व अन्य अधिकारियों समेत कुल 14 लोग सवार थे। हादसे से अभी तक तीन लोगों को रेस्क्यू कर लिया गया है, जिसमें दो की हालत गंभीर बताई जा रही है।


नई दिल्ली।
तमिलनाडु के नीलगिरी में सेना का हेलीकॉप्टर क्रैश में 11 लोगों की मौत की खबर है। इस हेलीकॉप्टर में सीडीएस बिपिन रावत के साथ उनकी पत्नी व अन्य अधिकारियों समेत कुल 14 लोग सवार थे। वायु सेना ने हादसे का कारण जानने के लिए जांच के आदेश दिए हैं।

ad

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह सीडीएस बिपिन रावत के घर पहुंचे हैं। उन्होंने यहां सीडीएस की बेटी से मुलाकात की है। यहां से राजनाथ सिंह संसद भवन के लिए रवाना हो गए। इधर अभी तक सीडीएस बिपिन रावत की हालत के बारे में सेना के अधिकारी कुछ भी बोलने से बच रहे हैं। जानकारी अनुसार सीडीएस रावत अस्पताल में हैं।

पीएम ने आपात बैठक बुलाई
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने हादसे की जानकारी पीएम मोदी को दी है। इसके बाद पीएम ने आपात बैठक बुलाई है। दुर्घटना में चार लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। वहीं कुछ लोग गंभीर रूप से घायल बताए जा रहे हैं। सामने आ रही जानकारी के मुताबिक, हेलीकॉप्टर क्रैश से आग लग गई, जिसमें अधिकारी बुरी तरह झुलस गए हैं।

कर्नाटक के सीएम ने हादसे पर दुख जताया
कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने कहा कि यह सुनकर दुख हुआ कि सीडीएस जनरल बिपिन रावत को ले जा रहा भारतीय वायुसेना का हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। मैं घटना के बारे में और जानकारी जुटाने की कोशिश कर रहा हूं। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है।

तमिलनाडु के वन मंत्री घटनास्थल पर पहुंचे
तमिलनाडु के वन मंत्री के रामचंद्रन भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि मैं सीएम के निर्देश पर यहां पहुंचा हूं। विमान में सवार 14 लोगों में से पांच लोगों की मौत हो गई है और दो अन्य की स्थिति गंभीर है। बचाव अभियान जारी है।

वायुसेना प्रमुख सुलूर रवाना
इस बीच वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी सुलूर के लिए रवाना हो गए हैं। सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी गई है।

उच्च अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे रक्षा मंत्री
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह हेलीकॉप्टर हादसे पर नजर बनाए हुए हैं। वे रक्षा मंत्रालय के उच्च अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे हैं। जल्द ही वे इस पर संसद में बयान जारी करेंगे। बताया जा रहा है कि जरूरत पड़ी तो वे घटनास्थल पर भी जा सकते हैं।

वायु सेना ने हादसे की पुष्टि की है
तक सीडीएस बिपिन रावत की ओर से ओर से कोई जानकारी सामने नहीं आई है। वायु सेना ने हादसे की पुष्टि करते हुए कहा है कि सेना का एमआई-17V5 हेलीकॉप्टर क्रैश हुआ है। इस हेलीकॉप्टर में सीडीएस बिपिन रावत भी मौजूद थे। वायु सेना ने हादसे का कारण जानने के लिए जांच के आदेश दिए हैं।

सेना का सबसे सुरक्षित हेलीकॉप्टर है Mi-17V5
भारतीय सेना का Mi-17V5 सबसे सुरक्षित हेलीकॉप्टरों में से एक है। किसी भी वीवीआईपी दौरे में इसी विमान का उपयोग किया जाता है। यह डबल इंजन का हेलीकॉप्टर है, जिससे एक इंजन में खराबी आने पर दूसरे इंजन के सहारे सुरक्षित लैंडिंग कराई जा सके। इस हेलीकॉप्टर की तुलना चिनूक हेलीकॉप्टर से की जाती है।

(TNS)