विधानसभा में ध्यान आकर्षण सवाल के बाद नियम विरूद्ध काम करने वाले कृषि उपसंचालक निलंबित

जानकारी अनुसार हरित क्रांति योजना के तहत नियमों के खिलाफ जाकर लगभग 35 लाख की मिनी राइस मिल की खरीदी उपसंचालक द्वारा कर लिया गया। बीज निगम के तहत कार्य न कर अधिकारी ने खरीदी में मनमानी करते हुए स्थानीय डीलर से क्रय कर लिया गया।

 

गरियाबंद। हरित क्रांति योजना के तहत नियम विरूद्ध काम करना कृषि उपसंचालक को भारी पड़ गया। मामला विधानसभा तक पहुंच गया। गरियाबन्द के विधायक अमितेष शुक्ल के ध्यान आकर्षण सवाल के बाद अधिकारी पर तत्काल कार्रवाई की गई।

मामले में तत्काल कार्रवाई करते हुए सरकार ने गरियाबन्द कृषि उपसंचालक फागुराम कश्यप को निलंबित कर दिया है। मामले में कृषि विकास एवं किसान कल्याण और जैव प्रद्योगिकी विभाग के अवर सचिव हेमिन बाघ ने आदेश जारी किया है। निलंबन के दरम्यान संचनालय कृषि नया रायपुर में सलंग्न रहेंगे।

खरीद ली 35 लाख की मिनी राइस मिल
जानकारी अनुसार हरित क्रांति योजना के तहत नियमों के खिलाफ जाकर लगभग 35 लाख की मिनी राइस मिल की खरीदी उपसंचालक द्वारा कर लिया गया। बीज निगम के तहत कार्य न कर अधिकारी ने खरीदी में मनमानी करते हुए स्थानीय डीलर से क्रय कर लिया गया।

माह भर पहले इसकी शिकायत की गई थी
बता दें कि माह भर पहले राजिम विधायक अमितेष शुक्ल ने इस मामले की शिकायत संचालक कृषि से की थी। उसके बाद मामले की जांच तक शुरू नहीं हुई। इससे नाराज विधायक शुक्ल ने मामला ध्यानाकर्षण के माध्यम से विधानसभा में लगाया था। सत्र स्थगन होने के बावजूद सरकार ने राजिम विधायक के इस मामले को गम्भीरता से लेते हुए जवाब देने से पूर्व आज उपसंचालक पर कार्रवाई कर दी गई।

बता दें कि सोमवार को विधानसभा शीतकालीन सत्र का पहला दिन था। जहां पहले दिवंगत साथियों को श्रद्धांजलि के बाद विधानसभा की कार्रवाई शुरू हुई। जहां राजिम विदायक ने मामले में ध्यान आकर्षण सवाल लगाया था।

(TNS)